scorecardresearch
 

फेसबुक संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने कहा, 'मोहम्मद साहब का कंटेंट हटाने से मना करने पर पाक से मिली थी

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने पेरिस में फ्रांसिसी साप्ताहिक अखबार में हुए हमले के बाद अपने फेसबुक पेज पर खुलासा किया कि फेसबुक पर पैगंबर मोहम्मद के कंटेंट पर रोक से इनकार करने पर कुछ साल पहले पाकिस्तान के एक आतंकी ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी थी.

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने पेरिस में फ्रांसिसी साप्ताहिक अखबार में हुए हमले के बाद अपने फेसबुक पेज पर खुलासा किया कि फेसबुक पर पैगंबर मोहम्मद के कंटेंट पर रोक से इनकार करने पर कुछ साल पहले पाकिस्तान के एक आतंकी ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी थी.

हालांकि जुकरबर्ग ने आतंकी की पहचान नहीं बताई, लेकिन पाकिस्तानी आतंकी लिखने के कारण सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर उनका खूब विरोध हो रहा है. जुकरबर्ग के फेसबुक पेज पर एक पाकिस्तानी फॉलोअर ने लिखा, 'आप एक आदमी की हरकत की वजह से पूरे देश को दोषी नहीं ठहरा सकते हैं.'

अपने खिलाफ हो रहे लगातार विरोध को देखते हुए जुकरबर्ग ने लिखा, 'आप सही हैं. मेरे बहुत सारे पाकिस्तानी दोस्त हैं और मैं ये जानता हूं कि सभी पाकिस्तानी वैसे नहीं होते हैं, जैसा मुझे मारने की धमकी देने वाला था.' ऑनलाइन इस बातचीत में कई भारतीय आलोचक भी शामिल थे, इनमें कई ऐसे भी थे जो पाकिस्तान पर ताना मार रहे थे.

जुकरबर्ग ने आगे कहा कि इन धमकियों के बाद भी उन्होंने अपना फैसला नहीं बदला. उन्होंने कहा, 'फेसबुक एक ऐसा प्लेटफॉर्म है, जहां दुनियाभर के लोग अपने विचार रखते हैं. हम यूजर्स को पूरा मौका देते हैं कि वह बिना डरे अपनी बात कह सकें. हम अपने यूजर्स से प्रतिबद्ध हैं और यही वजह है कि फेसबुक हर देश के कानून का पालन करता है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें