scorecardresearch
 
विश्व

तालिबानी नेताओं के कई पत्नियां रखने पर लगी रोक, लेकिन अमीरों को रहेगी छूट

afghanistan taliban
  • 1/7

अफगान तालिबान के मुखिया मुल्ला हैबतुल्ला अखुंदजादा ने एक आदेश जारी कर तालिबानी नेताओं और कमांडरों के एक से अधिक पत्नियां रखने पर रोक लगा दी है. हैबतुल्ला के मुताबिक शादियों पर ज्यादा खर्च होने की वजह से विरोधियों को उनके खिलाफ प्रोपेगैंडा का मौका मिल जाता है. हालांकि, अफगानिस्तान की मुस्लिम परंपरा के तहत पुरुषों को एक वक्त में अधिकतम चार पत्नियां रखने की इजाजत है और यह कानूनी भी है. (फाइल फोटो- AFP)

afghanistan taliban
  • 2/7

कहा जा रहा है कि तालिबानी नेताओं की तरफ से शादी के लिए फंडिंग की मांग बढ़ने लगी थी. इसी वजह से एक से अधिक पत्नियां रखने पर रोक का फैसला लिया गया है. (फाइल फोटो- AFP)

afghanistan women
  • 3/7

bbc.com की रिपोर्ट के मुताबिक, जिन पुरुषों के पास बच्चा नहीं है, जिन्हें अब तक बेटा नहीं हुआ है, जो विधवा से शादी करना चाहते हैं या फिर जिनके पास एक से अधिक पत्नियां रखने की आर्थिक क्षमता है, उन्हें पाबंदियों से छूट दी गई है. हालांकि, इन लोगों को एक से अधिक पत्नियां रखने के लिए अपने नेता से इजाजत लेनी होगी. (प्रतीकात्मक फोटो- AFP)

afghan women
  • 4/7

हैबतुल्ला ने पाबंदियों को लेकर लिखित बयान जारी किया है. इस बयान में हैबतुल्ला ने कहा है- “हम इस्लामिक अमीरात के अधिकारियों को इस्लामी शरीया के मुताबिक निर्देश देते हैं कि अगर जरूरत न हो तो दूसरी, तीसरी और चौथी शादी न करें.”  तालिबान कमांडरों और नेताओं से अपने मातहत लोगों को भी इस निर्देश पर अमल कराने के लिए कहा गया है.  (प्रतीकात्मक फोटो- AFP)

afghanistan taliban
  • 5/7

दरअसल, अफगानिस्तान में शादियों पर बढ़ चढ़ कर खर्च करने की होड़ रहती है. साथ ही दूल्हे को दुल्हन के घर वालों को मेहर के तौर पर मोटी रकम देनी पड़ती है. इसके अलावा एक से ज्यादा शादी करने पर हर पत्नी के लिए अलग घर का इंतजाम करना पड़ता है.  अफगानिस्तान के कुछ हिस्सों में दुल्हन के घर वालों को 20 लाख अफगानी (करीब 19 लाख रुपये) तक देने पड़ते हैं. तालिबान नेता और कमांडर इस रकम की मांग संगठन से ही करते हैं. इस तरह पैसा खर्च होने से अफगान तालिबान को फंड की किल्लत का सामना करना पड़ता है.  (फाइल फोटो- AFP)

afghanistan taliban
  • 6/7

अफगान तालिबान को कई बार इस मुद्दे पर अंदरूनी तनाव भी झेलना पड़ा है. फ्रंटलाइन पर लड़ने वाले युवा अपने बड़े नेताओं के खिलाफ आक्रोश जताते हैं कि वे फिजूलखर्ची न करने की हिदायत देते हैं और खुद पाकिस्तान, दोहा जाकर आलीशान जिंदगी जीने के लिए दोनों हाथों से पैसा लुटाते हैं. (फाइल फोटो- AFP)

afghan women
  • 7/7

दिलचस्प ये है कि एक से ज्यादा शादी न करने का फरमान जारी करने वाले अफगान तालिबान प्रमुख हैबतुल्ला ने खुद भी दो शादियां कर रखी हैं. अफगान तालिबान के संस्थापक मुल्ला मोहम्मद उमर की तीन पत्नियां थीं. उमर के बाद तालिबान की कमान संभालने वाले मुल्ला अख्तर मंसूर की भी तीन पत्नियां थीं.
(प्रतीकात्मक फोटो- AFP)