scorecardresearch
 

राजस्थान: विदाई के समय पिता ने पूरा किया बेटियों का सपना, हेलीकॉप्टर से गईं ससुराल

सूरजगढ़ के खेदड़ों की ढाणी के रहने वाले सुरेश खेदड़ ने अपनी दो बेटियों पूनम खेदड़ और प्रियंका खेदड़ की शादी के बाद उन्हें सुसराल के लिए हेलीकॉप्टर से विदा किया. इस नजारे को देखने केलिए पूरा गांव उमड़ पड़ा. दाेनों बेटियों का बचपन से ही सपना था कि शादी के बाद उनकी विदाई हेलीकॉप्टर से हो.

X
हेलीकॉप्टर से ससुराल पहुंची बेटियां हेलीकॉप्टर से ससुराल पहुंची बेटियां
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पिता ने दिया बेटियों को बड़ा सरप्राइज
  • हेलीकॉप्टर से ससुराल पहुंचीं बेटियां

राजस्थान के झुंझुनूं में एक पिता ने अपनी बेटियों के हेलीकॉप्टर में बैठने का सपना पूरा किया. सूरजगढ़ के खेदड़ों की ढाणी के रहने वाले सुरेश खेदड़ अपने दो बेटियों पूनम खेदड़ और प्रियंका खेदड़ को सुसराल के लिए हेलीकॉप्टर से विदा किया. इस नजारे को देखने के लिए पूरा गांव उमड़ पड़ा. दरअसल शिक्षाविद सुरेश खेदड़ की बेटियां डॉक्टर पूनम खेदड़ और डॉक्टर प्रियंका खेदड़ बचपन से ही हेलीकॉप्टर में बैठने का सपना देखती थीं. पिता ने अपनी बेटियों के इस सपने को पूरा करने के लिए हेलीकॉप्टर से विदा करने का फैसला किया.

बेटियों को हेलीकॉप्टर से ससुराल विदा किया

बता दें, डॉक्टर पूनम खेदड़ पीजी से आयुर्वेदिक डॉक्टर और छोटी बहन डॉक्टर प्रियंका खेदड़ आयुर्वेदिक की पढ़ाई पूरी की है और इनका भाई अंकित खेदड़ एलएलबी श्रीराम कॉलेज से कर रहा है. पिता सुरेश खेदड़ सूरजगढ़ कस्बे में निजी शिक्षण संस्थान चलाते हैं. पिता सुरेश खेदड़ ने बताया कि दोनों बेटियों के बचपन का सपना पूरा करने का यह बड़ा मौका था. पिता ने कहा मेरी दोनों बेटियों ने बचपन में ही मुझे हेलीकॉप्टर में बैठने की बात कही थी.  आज मैंने उनका सपना पूरा कर दिया ऐसा करने से वो बेहद खुश हैं. 

पूनम और प्रियंका आयुर्वेदिक डॉक्टर हैं

दुल्हन डॉक्टर पूनम खेदड़ ने बताया कि उनके लिए यह बड़ी ही फक्र की बात है कि उनके माता-पिता ने हम दोनों बहनों की हेलीकॉप्टर से विदाई की. यह हमारे लिए बहुत बड़ा सरप्राइज था, हमें अपने माता-पिता पर गर्व हैं. जो हेलीकॉप्टर से विदाई देकर हमें ससुराल में भेज रहे हैं. इसके अलावा डॉक्टर प्रियंका खेदड़ ने कहा कि हर माता-पिता की इच्छा होती है कि वह अपने बच्चों के सभी सपने पूरे करें.

हेलीकॉप्टर से ससुराल पहुंची बेटियां
हेलीकॉप्टर से ससुराल पहुंची बेटियां

 

पूरे इलाके में यह विदाई चर्चा का विषय बनी हुई है 

वहीं दूसरे दुल्हे पक्ष में पिता हरिसिंह ढाका सरकारी स्कूल में पीटीआई के रूप में कार्यरत हैं और बुहाना निकटवर्ती ढाकामांडी निवासी दुल्हा डॉक्टर  हेमन्त असिस्टेंट प्रोफेसर है. जबकि अनुराग आयुर्वेदिक चिकित्सक की पढ़ाई कर रहा है. इस विदाई से दोनों पक्ष के लोग बेहद खुश हैं. यह विदाई पूरे इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है. 

(झुंझुनू से नैना शेखावत की रिपोर्ट) 

ये भी पढ़ें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें