scorecardresearch
 

गिलानी ने मनमोहन का विश्‍व कप आमंत्रण स्वीकार किया

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने मोहाली में 30 मार्च को भारत-पाक के बीच होने वाला विश्वकप सेमीफाइनल देखने के लिए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का आमंत्रण स्वीकार कर लिया है.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने मोहाली में 30 मार्च को भारत-पाक के बीच होने वाला विश्वकप सेमीफाइनल देखने के लिए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का आमंत्रण स्वीकार कर लिया है.

सूत्रों ने बताया कि आमंत्रण स्वीकार करने का फैसला शनिवार देर रात गिलानी और पाक राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के बीच हुई बैठक के बाद किया गया और इस बारे में भारत सरकार को अवगत करा दिया गया है. हालांकि इस बारे में पाकिस्तान सरकार की ओर से कोई औपचारिक बयान नहीं आया है.

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भारत और पाकिस्तान के बीच 30 मार्च को मोहाली में होने वाले क्रिकेट विश्व कप सेमीफाइनल मैच को देखने के लिए पाकिस्तानी राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को न्यौता दिया था. प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह खुद भी इस मैच के दौरान मोहाली में उपस्थित रहेंगे.

मनमोहन सिंह ने पाक राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी और प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी को लिखे पत्र में भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाले विश्व कप सेमीफाइनल मैच को देखने का प्रस्ताव दिया था. इसमें उन्हें मैच देखने का आमंत्रण देते हुए लिखा था कि आपको मैच के लिए आमंत्रित करने से मुझे काफी खुशी हो रही है. {mospagebreak}

‘द न्यूज’ अखबार ने अपने सूत्रों के हवाले से कहा कि गिलानी मैच के दौरान मनमोहन से अनौपचारिक मुलाकात करेंगे और मैच खत्म होने के बाद दोनों के बीच औपचारिक मुलाकात होगी. ‘द नेशन’ अखबार ने अपने सूत्रों के हवाले से कहा कि ‘क्रिकेट कूटनीति’ के ताजा दौर के तहत गिलानी दो दिवसीय भारत यात्रा पर जाएंगे.

इसने कहा कि मनमोहन सिंह के आमंत्रण को गिलानी द्वारा स्वीकार किए जाने के बारे में राजनयिक माध्यम से भारत को अवगत करा दिया गया है.यहां स्थित भारतीय उच्चायोग ने हालांकि कहा कि उसे इस संबंध में पाकिस्तान की ओर से कोई सूचना नहीं मिली है.

शनिवार रात तक खबर थी कि गिलानी और जरदारी अपनी जगह संसद के उपरी सदन के अध्यक्ष फारूक नाईक को भारत भेज सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें