scorecardresearch
 

आयकर छूट सीमा बढ़कर हो सकती है 3 लाख रुपये

एक प्रमुख संसदीय समिति शनिवार को प्रत्यक्ष कर संहिता (डीटीसी) विधेयक पर महत्वपूर्ण रिपोर्ट मंजूर करने के साथ ही आयकर छूट सीमा को 1 लाख 80 हजार से बढ़ाकर 3 लाख रुपये करने की सिफारिश करेगी.

एक प्रमुख संसदीय समिति शनिवार को प्रत्यक्ष कर संहिता (डीटीसी) विधेयक पर महत्वपूर्ण रिपोर्ट मंजूर करने के साथ ही आयकर छूट सीमा को 1 लाख 80 हजार से बढ़ाकर 3 लाख रुपये करने की सिफारिश करेगी.

पूर्व वित्त मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा की अध्यक्षता वाली वित्तीय मामलों की संसदीय स्थायी समिति शनिवार को दिनभर चलने वाली बैठक में डीटीसी पर रिपोर्ट के अंतिम मसौदे पर चर्चा करेगी. समिति का विचार है कि आयकर छूट सीमा बढ़ाकर 3 लाख रुपये की जानी चाहिए.

विधेयक में यह सीमा बढ़ाकर 2 लाख रुपये करने का प्रावधान है. सूत्रों के मुताबिक, समिति चाहती है कि सरकार तेजी से बढ़ती महंगाई को देखते हुए आयकर छूट सीमा बढ़ाए. वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने डीटीसी विधेयक को अगस्त में लोकसभा में पेश किया था जिसे समीक्षा के लिए स्थायी समिति के पास भेज दिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें