scorecardresearch
 

ड्रोन विमानों को मार गिराया जाए: पाकिस्तानी संगठन

पाकिस्तान में धार्मिक और राजनीतिक दलों के एक गठबंधन ने सरकार से मांग की है कि आतंकवादियों को नियमित तौर पर निशाना बनाने वाले अमेरिकी ड्रोन विमान मार गिराए जाएं.

ड्रोन हमला ड्रोन हमला

पाकिस्तान में धार्मिक और राजनीतिक दलों के एक गठबंधन ने सरकार से मांग की है कि आतंकवादियों को नियमित तौर पर निशाना बनाने वाले अमेरिकी ड्रोन विमान मार गिराए जाएं.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, इस गठबंधन ने कहा है कि यदि सरकार ने अफगानिस्तान में तैनात उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) सुरक्षा बलों के लिए आपूर्ति मार्ग खोला, तो वे इसके खिलाफ सर्वोच्च न्यायालय जाएंगे.

पाकिस्तान ने अपनी सीमावर्ती चौकियों पर अमेरिकी हवाई हमले में 24 सैनिकों के मारे जाने के विरोधस्वरूप पिछले नवम्बर में आपूर्ति मार्ग बंद कर दिया था.

पाकिस्तान और अमेरिका के बीच बातचीत, दोनों देशों के बीच बना गतिरोध दूर करने में अभी तक सफल नहीं हो पाई है. कट्टरपंथी संगठनों ने आपूर्ति मार्ग फिर से न खोलने के लिए सरकार पर दबाव बनाया है.

पाकिस्तान रक्षा परिषद (डीपीसी) के प्रमुख मौलाना समी-उल-हक ने रविवार को कहा कि गठबंधन आपूर्ति मार्ग फिर से खोले जाने के किसी भी निर्णय का विरोध करेगा. उन्होंने सरकार से यह भी मांग की है कि अमेरिकी ड्रोन जब भी देश के हवाई क्षेत्र में प्रवेश करें, उन्हें मार गिराया जाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें