scorecardresearch
 

भारी तबाही मचाना चाहते थे आतंकी: चिदंबरम

केन्द्रीय गृहमंत्री पी चिदंबरम ने बुधवार को कहा कि केन्द्रीय एजेंसियों और तीन राज्यों की पुलिस के जबर्दस्त समन्वय का नतीजा है कि दिल्ली में आतंकी हमले की साजिश को विफल करने में मदद मिली.

पी चिदंबरम पी चिदंबरम

केन्द्रीय गृहमंत्री पी चिदंबरम ने बुधवार को कहा कि केन्द्रीय एजेंसियों और तीन राज्यों की पुलिस के जबर्दस्त समन्वय का नतीजा है कि दिल्ली में आतंकी हमले की साजिश को विफल करने में मदद मिली.

उन्होंने कहा कि आतंकवादी राष्ट्रीय राजधानी के किसी भीड़भाड़ वाले स्थान पर एक से अधिक बम रखना चाहते थे. चिदंबरम ने संवाददाताओं से कहा, ‘जिस आतंकी माड्यूल को ध्वस्त किया गया है, वह आतंकवादी संगठन लश्कर ए तय्यबा द्वारा प्रायोजित था. दो संदिग्ध आतंकवादियों को दिल्ली में पकड़ा गया और उन्हें मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया जा रहा है.’

उन्होंने केन्द्रीय एजेंसियों और दिल्ली, झारखंड एवं जम्मू-कश्मीर पुलिस को इस आतंकी माडयूल को ध्वस्त करने के लिए बधाई देते हुए कहा कि कुछ अन्य लोगों को भी हिरासत में लिया गया है. गृह मंत्री ने कहा कि उन्होंने दिल्ली के पुलिस आयुक्त को निर्देश दिया है कि वह मामले का ब्यौरा जुटाकर जानकारी दें.

यह पूछने पर कि आतंकवादियों के निशाने पर कौन से प्रतिष्ठान और कौन से अति विशिष्ट लोग थे, चिदंबरम ने कहा, ‘कोई अति विशिष्ट व्यक्ति निशाने पर नहीं था. वे संभवत: किसी भीड़भाड़ वाली जगह पर एक से अधिक बम रखना चाहते थे.’

उन्होंने कहा कि अभी प्रारंभिक सूचना ही मिली है. पकड़े गये संदिग्ध आतंकवादियों से पूछताछ चल रही है, जिसके बाद ही कोई ब्यौरा हासिल होगा. उल्लेखनीय है कि दिल्ली पुलिस ने जम्मू-कश्मीर और झारखंड पुलिस के साथ चलाए गए एक बड़े अभियान के तहत लश्कर ए तैयबा के दो संदिग्ध आतंकवादियों को धर दबोचा.

इस बीच गृह मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय खुफिया एजेंसियों से सूचना मिली थी कि लश्कर के संदिग्ध आतंकवादी राजधानी में आतंकी हमलों की योजना बना रहे हैं. जम्मू-कश्मीर और झारखंड पुलिस के साथ प्रभावी समन्वय से दोनों आतंकियों को दबोचने में मदद मिली.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें