scorecardresearch
 
ट्रेंडिंग

झारखंड: कोरोना संकट के दौर में दो भाइयों ने बनाया अनोखा रोबोट, रेस्तरां-कोविड सेंटर के लिए कारगर

दो इंजीनियर भाइयों रोहित आनंद और साकेत आनंद ने बनाया रोबोट (फोटो आजतक)
  • 1/5

झारखंड के जमशेदपुर के रहने वाले दो भाइयों ने एक ऐसा रोबोट तैयार किया है, जो 360 डिग्री पर घूमता है और घर से लेकर दफ्तर के कई कामों को आसानी से करता है. कोविड केयर सेंटर, रेस्टोरेंट जैसी जगहों पर यह रोबोट अपनी अहम भूमिका निभा सकता है. 
(इनपुट- अनूप सिन्हा)

दो इंजीनियर भाइयों रोहित आनंद और साकेत आनंद ने बनाया रोबोट (फोटो आजतक)
  • 2/5

इस रोबोट को तैयार करने की लागत 75 हजार रुपये आई है. आदित्यपुर के दो इंजीनियर भाई रोहित आनंद और साकेत आनंद ने शुक्रवार को इसे लॉन्च किया. यह रोबोट वाइफाइ से भी काम करेगा. फिलहाल यह 20 किलोग्राम तक वजन उठाने की क्षमता रखता है. इसकी क्षमता को बढ़ाने का काम जारी है. 

दो इंजीनियर भाइयों रोहित आनंद और साकेत आनंद ने बनाया रोबोट (फोटो आजतक)
  • 3/5

रोहित और साकेत का कहना है कि इसमें दो कैमरे, तीन-चार घंटे चलने वाली बैटरी, तीन तरह के छोटे-छोटे कैमरे लगाए गए हैं. इसे बनाने का सामान चेन्नई और मुंबई में मंगाया गया था. इसे कम से कम लागत में कैसे बनाया जाए इस पर भी हम काम कर रहे हैं. 

दो इंजीनियर भाइयों रोहित आनंद और साकेत आनंद ने बनाया रोबोट (फोटो आजतक)
  • 4/5

इसके अलावा युवा इंजीनियर साकेत आनंद का कहना है कि आगे हमने फास्ट प्रोटोटाइप लैब निर्माण की योजना बनाई है. इस लैब की स्थापना का मुख्य उद्देश्य है कि एक आइडिया से लेकर फाइनल प्रोडक्ट तैयार होने के समय को कम किया जा सके.  

दो इंजीनियर भाइयों रोहित आनंद और साकेत आनंद ने बनाया रोबोट (फोटो आजतक)
  • 5/5

इनके लैब में इनोवेशन और रिसर्च से जुड़ीं सभी सुविधाएं उपलब्ध होंगी. युवा इंजीनियर भाई अब इस एडवांस रोबोट को झारखंड सरकार को दिखाना चाहते हैं और इस रोबोट को सरकार को मुफ्त भेंट करना चाहते हैं. ताकि कोविड मरीजों के इलाज में रोबोट मदद कर सके.