scorecardresearch
 
ट्रेंडिंग

भिखारी ने दिखाया बड़ा दिल, कोरोना राहत कोष में दिए 90 हजार रुपये

भिखारी ने दिखाया बड़ा दिल, कोरोना राहत कोष में दिए 90 हजार रुपये
  • 1/5
कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया को हिलाकर रखा हुआ है. इस गंभीर संकट में लोग एक दूसरी की मदद करने में जुटे हैं. तमिलनाडु के मदुरै से एक ऐसी खबर सामने आई है जो लोगों के लिए एक बड़ी प्रेरणास्त्रोत बनी है. एक भिखारी पूल पांडियन ने कोरोना राज्य राहत कोष में 90 हजार रुपये दान कर मिसाल कायम की है.

(All Photos ANI)
भिखारी ने दिखाया बड़ा दिल, कोरोना राहत कोष में दिए 90 हजार रुपये
  • 2/5
पूल पांडियन ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए बताया कि जले के जिलाधिकारी ने मुझे सामाजिक कार्यकर्ता की उपाधि दी है जिससे मैं बहुत खुश हूं. इससे पहले भी इन्होंने मई में जिले के कलेक्टर टीजी विनय को गरीब बच्चों के लिए दस हजार रुपये की राशि दान की थी.
भिखारी ने दिखाया बड़ा दिल, कोरोना राहत कोष में दिए 90 हजार रुपये
  • 3/5
तमिलनाडु के मदुरै के रहने वाले पूल पांडियन  बेहद गरीब हैं, लोगों से मांगकर वह अपना गुजर बसर करते हैं लेकिन कोरोना के इस संकट में उन्होंने अपनी बचत में से 90 हजार रुपये राज्य के कोविड-19 के रिलीफ फंड में दान किया है. सोशल मीडिया पर पूल पांडियन की इस शानदार काम के लिए खासी तारीफ हो रही है.
भिखारी ने दिखाया बड़ा दिल, कोरोना राहत कोष में दिए 90 हजार रुपये
  • 4/5
पूल पांडियन, तूतीकोरिन जिले के रहने वाले हैं. गरीबी के कारण भीख मांगना शुरू किया. कभी एक जगह टिकते नहीं. भीग मांगते हुए जब पैसे इकट्ठा करते हैं. तो कलेक्टर ऑफिस देने चले आते हैं. बच्चों की शिक्षा के लिए सरकारी स्कूलों में भी वो कई बार दान दे चुके हैं.

(Representational image)
भिखारी ने दिखाया बड़ा दिल, कोरोना राहत कोष में दिए 90 हजार रुपये
  • 5/5
कोरोना वायरस ने मुश्किल हालात में इंसानों को जीवन जीने का नया तरीका सिखाया है. पूल पांडियन जैसे लोग पूरे समाज के लिए प्रेरणा स्त्रोत हैं, जो बेहद कम संसाधन में बिना किसी शिकायत के पूरी निष्ठा से समाज की सेवा कर रहे हैं.