scorecardresearch
 
ट्रेंडिंग

रेमडेसिविर की किल्लत के बीच कालाबाजारी, OLX पर 6 हजार रुपये में बिक रही दवा

रेमडेसिविर
  • 1/6

देश में कोरोना संक्रमण चरम पर है और हर दिन लाखों केस सामने आ रहे हैं. इसके इलाज में काम आने वाली एंटी वायरल दवा रेमडेसिविर की डिमांड पूरे देश में बढ़ गई है और कई राज्यों में तो इसकी भारी किल्लत है. जरूरतमंद मरीजों को ये दवा नहीं मिल पा रही है लेकिन ऑनलाइन सेलिंग प्लेटफॉर्म OLX पर इसकी धड़ल्ले से कालाबाजारी जारी है. 

रेमडेसिविर
  • 2/6

कोरोना के उपचार में इस्तेमाल होने वाली एंटीवायरल दवा रेमडेसिविर की शीशियों को ओएलएक्स पर मनमानी कीमतों पर बेचा जा रहा है. हमारे सहयोगी इंडिया टुडे टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात और महाराष्ट्र के कई ओएलएक्स यूजर्स को रेमेडिसविर की शीशियां बेची जा रही हैं. बता दें कि इन दोनों राज्यों की कोरोना से हालत सबसे ज्यादा खराब है.

रेमडेसिविर
  • 3/6

ओएलएक्स पर रेमडेसिविर दवा मनमानी कीमतों पर बेचने की खबरें ऐसे समय में आई हैं जब कई राज्य इसकी कमी से जूझ रहे हैं, लोग इस दवा को लेने के लिए फार्मेसियों के बाहर घंटों कतार में खड़े नजर आ रहे हैं.

रेमडेसिविर
  • 4/6

इन परिस्थितियों में भी लोग कालाबाजारी के जरिए रेमडेसिविर इंजेक्शन बेच कर मुनाफा कमाने की जुगत में लगे हुए हैं. जिन लोगों ने यह एंटीवायरल इंजेक्शन खरीदा है वो उसे ऊंचे दामों पर OLX पर बेच रहे हैं.
 

रेमडेसिविर
  • 5/6

वेबसाइट पर रेमडेसिविर इंजेक्शन 5 से 6 हजार रुपये में बेचे जा रहे हैं. जब इंडिया टुडे टीवी ने ओएलएक्स पर "रेमडेसिविर" को सर्च किया तो  कई विज्ञापन ऐसे दिखे जिसमें उच्च दरों पर इंजेक्शन बेचे जाने की पेशकश की जा रही थी. इंडिया टुडे टीवी ने मुंबई के अंधेरी के एक व्यक्ति से संपर्क करने की कोशिश की, जो ओएलएक्स पर रेमडेसिविर इंजेक्शन बेच रहा था, लेकिन उसके माध्यम से नहीं मिला. गुजरात में सत्यम के नाम से एक शख्स ने 100 रेमडेसिविर दवाओं को बेचने के लिए विज्ञापन दिया था, जिसमें प्रत्येक इंजेक्शन की कीमत 1,400-1,600 रुपये रखी गई थी.

रेमडेसिविर
  • 6/6

एक अधिकारी ने कहा कि हाल ही में मध्य प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने कोरोना मरीजों के इलाज में इस्तेमाल होने वाले  रेमडेसिविर इंजेक्शन के ब्लैक मार्केटिंग में  एक मेडिकल शॉप के मालिक और दो अन्य लोगों को गिरफ्तार किया था. इंजेक्शन को 20,000 रुपये में बेचने की कोशिश कर रहे थे.