scorecardresearch
 
ट्रेंडिंग

चीनी राष्ट्रपति की पत्नी का WHO से क्या है कनेक्शन?

चीनी राष्ट्रपति की पत्नी का WHO से क्या है कनेक्शन?
  • 1/5
कोरोना वायरस को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन पर कई देश सवाल उठा रहे हैं. वहीं, एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि WHO ने अपनी वेबसाइट पर गुडविल एम्बेसडर पेंग लियुआन का जो परिचय दिया गया है, उसमें कहीं भी इस बात का जिक्र नहीं है कि वह चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की पत्नी हैं. (फोटो- Reuters)
चीनी राष्ट्रपति की पत्नी का WHO से क्या है कनेक्शन?
  • 2/5
WHO ने अपनी वेबसाइट पर गुडविल एम्बेसडर के तहत नौ लोगों का नाम लिखा है. जब पेंग का चुनाव इस पद के लिए किया गया था, तब तत्कालीन WHO प्रमुख मार्गरेट चान ने कहा था कि पेंग दुनिया की प्रसिद्ध आवाज और अच्छे दिल की महिला हैं. पहली बार पेंग का चयन 2011 में किया गया था. बाद में नए WHO प्रमुख टेड्रोस एडहैनम घेब्रियेसुस ने उन्हें दोबारा नियुक्त किया था.
चीनी राष्ट्रपति की पत्नी का WHO से क्या है कनेक्शन?
  • 3/5
डेली मेल में छपी रिपोर्ट के मुताबिक,  ब्रिटेन के सांसद और विदेश मामलों की कमेटी के चेयरमैन टॉम टी. ने कहा कि ऐसा लगता है कि गुडविल की परिभाषा लंबी कर दी गई है. WHO को ऐसे लोगों को चुनना चाहिए जो असल में लोगों के अधिकारों पर काम करते हों ना कि वे जिनके काम को लेकर संदेह हो. बता दें कि 1987 में पेंग की शादी जिनपिंग से हुई थी. तब जिनपिंग चीन के झिआमेन के डिप्टी मेयर थे और उनका पहली पत्नी से तलाक हो चुका था.
चीनी राष्ट्रपति की पत्नी का WHO से क्या है कनेक्शन?
  • 4/5
पेंग के बारे में WHO की वेबसाइट पर लिखा गया है- 'संगठन के डायरेक्टर जनरल (तत्कालीन) मार्गरेट चान प्रसिद्ध चीनी सिंगर और एक्ट्रेस पेंग लियुआन को टीबी और एचआईवी/एड्स के लिए WHO का गुडविल एम्बेसडर नियुक्त करते हैं. पेंग पीपल्स लिबरेशन आर्मी के जनरल पॉलिटिकल डिपार्टमेंट के चीनी गीत और डांस समूह की प्रमुख हैं. सिविल सर्विस में पहला और मिलिट्री में उन्हें मेजर जनरल का रैंक हासिल है. पेंग स्वास्थ्य, टीबी और एचआईवी पर नियंत्रण की काफी वकालत करती हैं. 2006 में पेंग चीन में एचआईवी/एड्स से बचाव को लेकर मिनिस्टर ऑफ हेल्थ एम्बेसडर बनाई गई थीं और 2007 में टीबी कंट्रोल एंड प्रीवेंशन की नेशनल एम्बेसडर भी बनाई गईं.'
चीनी राष्ट्रपति की पत्नी का WHO से क्या है कनेक्शन?
  • 5/5
अमेरिका सहित कई देश ये आरोप लगाते रहे हैं कि WHO ने दुनिया को कोरोना वायरस को लेकर समय पर आगाह नहीं किया और ऐसा चीन की वजह से किया गया. अमेरिका और जर्मनी की खुफिया एजेंसियों के हवाले से ऐसी रिपोर्ट्स भी आई हैं कि चीन के राष्ट्रपति ने WHO प्रमुख को कोरोना से जुड़ी जानकारी रोकने के लिए कहा था. लेकिन WHO ने ऐसी रिपोर्टों को खारिज कर दिया था. अब पेंग के WHO से कनेक्शन को लेकर संगठन पर फिर सवालों के घेरे में आ सकता है.