scorecardresearch
 
ट्रेंडिंग

UK: खौफ में पैगंबर मुहम्मद का कार्टून दिखाने वाला टीचर, बोला- वे मुझे और परिवार को मार डालेंगे

Teacher extremists fear
  • 1/5

पिछले साल अक्तूबर में फ्रेंच इतिहास शिक्षक सैम्युएल पैटी को एक कट्टरपंथी ने मार डाला था. अब ब्रिटेन में भी एक टीचर अपनी जान को लेकर बेहद चिंतित है. 29 साल के इस टीचर ने धार्मिक अध्ययन की क्लास में बच्चों को पैगंबर मोहम्मद का कैरिकेचर (कार्टून) दिखाया था जिसके बाद इस व्यक्ति के स्कूल के बाहर जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिले हैं.  (प्रतीकात्मक तस्वीर/रॉयटर्स)

Teacher extremists fear
  • 2/5

इन प्रदर्शनों के बाद 29 साल का ये टीचर काफी घबराया हुआ है. ब्रिटेन के वेस्ट यॉर्कशायर के बेटली ग्रामर स्कूल में पढ़ाने वाले इस शख्स की मां भी बेहद तनाव में हैं और वे भी छिप चुकी हैं क्योंकि इन प्रदर्शनों के बाद उन्हें लग रहा है कि वे उनके पूरे परिवार को नुकसान पहुंचाया जा सकता है. वही इस शख्स के पिता ने कहा कि मेरा बेटा बहुत परेशान है, वो अक्सर रोने लगता है और कहता है कि उसे मार दिया जाएगा.(प्रतीकात्मक तस्वीर/रॉयटर्स) 

Teacher extremists fear
  • 3/5

उन्होंने डेली मेल के साथ बातचीत में कहा कि आप देखिए कि फ्रांस के उस शिक्षक के साथ क्या हुआ. उन्होंने भी कुछ ऐसा ही किया था. वो मेरे बेटे को भी मार देंगे और मेरा बेटा ये बात जानता है. उसकी पूरी दुनिया ही बदल चुकी है और वो काफी तनाव में है. स्कूल ने और मेरे बेटे ने इस मामले में माफी मांग ली है. मुझे लगता है कि अब मामला खत्म हो जाना चाहिए और मेरे बेटे को जिंदगी में आगे बढ़ने का मौका दिया जाना चाहिए. (प्रतीकात्मक तस्वीर/रॉयटर्स)

Teacher extremists fear
  • 4/5

रिपोर्ट्स के अनुसार, ईश-निंदा से जुड़े पाठ को लेकर इस टीचर ने फ्रांस की लोकप्रिय मैगजीन चार्ली हेब्दो का एक कार्टून दिखाया था. इसके बाद से ही कई प्रदर्शनकारी स्कूल के बाहर प्रोटेस्ट कर रहे हैं. एक 20 साल के प्रोटेस्टर ने इंडिपेंडेंट वेबसाइट के साथ बातचीत में कहा कि जब तक उसे यहां से हटाया नहीं जाता, हम यहां आते रहेंगे. (स्कूल के बाहर प्रदर्शनकारी/Getty Images)

Teacher extremists fear
  • 5/5

गौरतलब है कि पिछले साल सैम्युएल पैटी की मौत के बाद से ही फ्रांस में इस अटैक के खिलाफ जबरदस्त प्रोटेस्ट्स देखने को मिले थे जिसके बाद फ्रांस के राष्ट्रपति मेक्रोन ने इस्लामिक चरमपंथ पर क्रैकडाउन करना शुरू किया था. इसके अलावा दिदियेर लेमायर नाम के एक टीचर को भी जान से मारने की धमकियां मिलने लगी थीं क्योंकि उन्होंने सैम्युएल पैटी को लेकर एक ओपन लेटर लिखा था. उन्होंने लिखा था कि सैम्युएल पैटी को बचाने के प्रशासन के प्रयास नाकाफी थे. (प्रतीकात्मक तस्वीर/रॉयटर्स)