scorecardresearch
 
ट्रेंडिंग

82 साल की दादी ने की ऐसी एक्सरसाइज, सोशल मीडिया पर वायरल हो गया वीडियो

दादी की एक्सरसाइज के फैन हुए लोग
  • 1/7

कोरोना वायरस जैसी महामारी के दौरान संक्रमण को रोकने के लिए हम सभी घर पर रह रहे हैं. इन विषम परिस्थितियों के बीच, अन्य चीजों के अलावा ज्यादातर लोगों की फिटनेस खराब हो गई क्योंकि वो जिम, पार्क या फिर टहलने नहीं जा पाए. हालांकि इसी दौरान एक 82 वर्षीय महिला का एक्सरसाइज करता हुआ वीडियो वायरल हुआ है जो सभी को सक्रिय रहने और व्यायाम करने के लिए प्रेरित कर रहा है.

दादी की एक्सरसाइज के फैन हुए लोग
  • 2/7

हम उस दादी के बारे में बात कर रहे हैं जिनका वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर काफी वायरल हो चुका है. वह लोगों को स्वस्थ रहकर अपनी शर्तों पर जीवन जीने के लिए प्रेरित करती हुई नजर आ रही हैं. 

दादी की एक्सरसाइज के फैन हुए लोग
  • 3/7

82 वर्षीय दादी का वीडियो पहली बार तब वायरल हुआ जब उनके पोते, चिराग कोर्डिया ने साड़ी में ही उनके व्यायाम करने का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया. वीडियो में दिखाया गया है कि इच्छाशक्ति मजबूत होती है तो उम्र कोई सीमा नहीं है.

दादी की एक्सरसाइज के फैन हुए लोग
  • 4/7

चिराग ने अपनी दादी का वजन उठाने, स्क्वाट्स, डेडलिफ्ट्स जैसे अन्य व्यायामों के अभ्यास का एक वीडियो साझा किया था. चिराग के अनुसार उनकी दादी एक बच्ची के रूप में बहुत ऊर्जावान व्यक्ति थीं. वह तैराकी करती थीं, कई खेल खेलती थी और शादी करने के बाद भी शारीरिक रूप से काफी सक्रिय रहती थीं. 

दादी की एक्सरसाइज के फैन हुए लोग
  • 5/7

हालांकि, बुढ़ापे में, उनके टखने पर चोट लगी, और फिर वह एक दिन बिस्तर से गिर गईं. उसी वक्त से उनकी तबियत बिगड़ने लगी. दादी जमीन पर झुककर या कुछ भी उठाकर चलने से भी डरती थी.
 

दादी की एक्सरसाइज के फैन हुए लोग
  • 6/7

पोते ने बताया कि उनकी दादी प्रशिक्षण ले रही है क्योंकि वह बिना किसी डर के अपनी दैनिक गतिविधियों को करने में सक्षम होना चाहती है, ताकि वह मजबूत, स्वतंत्र और सक्षम महसूस कर सकें. उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि क्या उनकी दादी के लिए इतनी बड़ी उम्र में वजन उठाना सुरक्षित है, इस पर कई लोगों ने चिंता जताई थी.

दादी की एक्सरसाइज के फैन हुए लोग
  • 7/7

ह्यूमन ऑफ बॉम्बे की एक हालिया पोस्ट में, 82 वर्षीय दादी ने अपनी यात्रा के बारे में बताया कि कैसे नियमित रूप से व्यायाम करने से उनका जीवन बदल गया. उन्होंने कहा, "धीरे-धीरे, हम बिस्तर से फर्श तक और पानी की बोतलों से डंबल तक पहुंच गए. मेरे पैरों में सूजन कम हो गई और मैंने अपनी हाथों और बाहों में फिर से ताकत हासिल कर ली. समय के साथ जोड़ों का दर्द और बीपी की समस्या भी खत्म हो गई.