scorecardresearch
 

Mamata Banerjee का विपक्षी नेताओं से मुलाकात के क्या हैं सियासी मायने?

Mamata Banerjee का विपक्षी नेताओं से मुलाकात के क्या हैं सियासी मायने?

पश्चिम बंगाल में खेला हो गया और अब देश में खेला होबे की तैयारी चल रही है. ममता बनर्जी दिल्ली दौरे पर हैं तो सियासी गलियारों में सुगबुगाहट तेज हो गई है. ममता विपक्षी पार्टियों से मिल रही हैं और सभी को एकजुट कर रही हैं. मकसद साफ है कि 2024 में बीजेपी को रोकना है. पांच दिन के दिल्ली दौरे में पहले दिन ममता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, कांग्रेस और दूसरे पार्टियों के नेताओं के साथ मुलाकात की. ममता की मुलाकात कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी, और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ हुई थी. केजरीवाल उत्तर भारत में सियासत का बड़ा चेहरा बन चुके हैं. बीजेपी को हराने के लिए ममता पूरे विपक्ष को एक मंच पर लाने की कोशिश कर रही हैं. लेकिन ममता की राह में कई मुश्किलें भी हैं. देखें वीडियो.

TMC leader and West Bengal Chief Minister Mamata Banerjee are on a mission in Delhi. An attempt to stitch an alliance of opposition parties to take on Narendra Modi in 2024 polls. Mamata had met PM Narendra Modi, Ex-MP CM Kamal Nath, Congress leader Sonia Gandhi, Rahul Gandhi, Anand Shama, Delhi CM Arvind Kejriwal, DMK MP Kanimozhi, and Union Minister Nitin Gadkari. Following her stellar victory in Bengal polls, Mamata emerged as a prominent figure in the opposition. Watch the video to know more.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें