scorecardresearch
 

दी लल्लनटॉप शो: लॉकडाउन के बावजूद प्रवासी मजदूर मुंबई की सड़कों पर क्यों इकट्ठा हुए?

दी लल्लनटॉप शो: लॉकडाउन के बावजूद प्रवासी मजदूर मुंबई की सड़कों पर क्यों इकट्ठा हुए?

लॉकडाउन 2.0 के बावजूद 14 अप्रैल को मुंबई के बांद्रा स्टेशन पर हजारों प्रवासी मजदूर जमा हो गए. उन्हें लग रहा था कि लॉकडाउन खुल जाएगा, तो वे ट्रेन में बैठकर अपने घर लौट जाएंगे. लेकिन ऐसा नहीं हुआ. पीएम मोदी ने लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया. ऐसा सिर्फ बांद्रा में नहीं हुआ कि मजदूर घर लौटने के लिए एक जगह पर जमा हुए हों. हैदराबाद, अहमदाबाद, सूरत, ठाणे से भी ऐसी खबरें आई. लेकिन इन सबके बीच सवाल उठता है कि प्रवासी मजदूरों को लेकर सरकार की लापरवाही की वजह से ये सब हुआ या मजदूरों को किसी ने गलत सूचना दी. दी लल्लनटॉप शो में जानिए पूरा मामला. साथ ही जानें कि मुरादाबाद में कोरोना से बचाने वालों से मारपीट क्यों हुई और दिन भर की अन्य बड़ी खबरें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें