scorecardresearch
 

हैक हुई रेयान स्कूल की वेबसाइट, हैकर्स ने लिखा- मासूम की मौत भूलेंगे नहीं

रेयान इंटरनेशनल स्कूल में बीते शुक्रवार को दूसरी क्लास में पढ़ने वाले सात साल के प्रद्युम्न के साथ कुकर्म की कोशिश करने के बाद उसकी गला रेतकर बेरहमी से हत्या कर दी गई थी. इस बीच हैकरों के एक ग्रुप ने विरोध प्रदर्शन करते हुए रेयान इंटरनेशनल की आधिकारिक वेबसाइट को हैक कर लिया है.

हैक की गई रेयान इंटरनेशनल की वेबसाइट हैक की गई रेयान इंटरनेशनल की वेबसाइट

रेयान इंटरनेशनल स्कूल में बीते शुक्रवार को दूसरी क्लास में पढ़ने वाले सात साल के प्रद्युम्न के साथ कुकर्म की कोशिश करने के बाद उसकी गला रेतकर बेरहमी से हत्या कर दी गई थी. इस बीच हैकरों के एक ग्रुप ने विरोध प्रदर्शन करते हुए रेयान इंटरनेशनल की आधिकारिक वेबसाइट को हैक कर लिया है. हैकरों ने यहां स्कूल प्रशासन के लिए एक संदेश भी छोड़ा है.

रेयान इंटरनेशनल स्कूल की आधिकारिक वेबासइट- www.ryaninternational.org हैक कर ली गई है. इसकी जिम्मेदारी केरल साइबर वॉरियर्स ने ली है. वेबसाइट को हैक कर हैकरों ने मृत प्रद्युम्न की फोटो पोस्ट कर श्रद्धांजलि दी है. हैकरों ने लिखा है- 'तुम शायद चले गए हो, लेकिन तुम कभी भी भुलाये नहीं जाओगे'.

इसके अलावा हैकरों ने स्कूल प्रशासन के लिए जो संदेश छोड़ा है उसमें लिखा है कि, भारत के नागरिक मासूम प्रद्युम्न ठाकुर के लिए न्याय चाहती है, जिसने अपनी जिंदगी आपकी सुरक्षा में लापरवाही होने की वजह से खो दी. स्कूल आपके लिए धंधा है... विद्यार्थियों के प्रति आपकी जिम्मेदारियां हैं? आपके स्कूल में सुरक्षा के लिए कौन सी सुविधा उपलब्ध कराई जाती है?

हैकरों ने स्कूल प्रशासन की लापरवाही की तरफ इशारा करते हुए लिखा है कि, CCTV कैमरे काम नहीं कर रहे थे, प्रशासन कर्मचारियों को नियुक्त करने से पहले उनके बैकग्राउंड चेक करने में भी नाकाम है. बस ड्राइवरों और कंडक्टरों को स्कूल बिल्डिंग में जाने की इजाजत है, साथ ही अनजान लोगों को भी स्टूडेंट्स के बाथरूम में जाने की इजाजत है.

अंत में हैकरों ने लिखा है कि, शिक्षा कोई धंधा नहीं है. 'हम माफ नहीं करेंगे, हम नहीं भूलेंगे'.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें