scorecardresearch
 

भारतीय हैकर्स ने Snapchat को ऐसे दिया मुंहतोड़ जवाब

कुछ भारतीय हैकर्स ने ये दावा किया है कि उन्होंने 17 लाख स्नैपचैट यूजर्स का पर्सनल डेटा हैक कर डीप वेबसाइट पर पोस्ट कर दिया है. हालांकि ये हैकर्स अज्ञात हैं.

स्नैपचैट स्नैपचैट

कुछ भारतीय हैकर्स ने ये दावा किया है कि उन्होंने 17 लाख स्नैपचैट यूजर्स का पर्सनल डेटा हैक कर डीप वेबसाइट पर पोस्ट कर दिया है. हालांकि हैकर्स कौन थे इस बारे में कोई जानकारी सामने नहीं आई है. रिपोर्ट्स के मुताबिक इन हैकर्स का दावा है कि उन्होंने ये कदम स्नैपचैट के सीईओ द्वारा भारत को गरीब कहे जाने के बाद उठाया है.

वैराइटी मैगजीन ने खबर दी है कि स्नैपचैट किसी भी प्रकार की हैकिंग का खंडन करती है. कंपनी का ये भी कहना है कि कंपनी के सीईओ ने ऐसा बयान कभी दिया ही नहीं. कंपनी की तरफ से आए बयान में उन्होंने कहा कि, 'उन शब्दों को असंतुष्ट पूर्व कर्मचारी द्वारा लिखा गया था. हम भारत और दुनिया भर में हमारे स्नैपचैट समुदाय के लिए आभारी हैं.

ट्विटर यूजर्स ने कंपनी के सीईओ के बयान के बाद #boycottsnapchat हैसटैग के साथ सोशल मीडिया पर काफी भड़ास निकाली. इसके अलावा लोगों ने #uninstallsnapchat के साथ ट्वीट करते हुए ऐप को डिलीट करने की बात भी कही. इसके बाद ऐप की रेटिंग पर भी असर पड़ा था. जिससे ऐप की रेटिंग वन स्टार तक आ गिरी थी.

बयान का असर इस कदर पड़ा कि अब सोमवार को इसके शेयर भी 1.5 फीसदी तक गिर गए. दरअसल ये सब शुरू तब हुआ था, जब कुछ दिन पहले यूएस बेस्ड मैगजीन ने कंपनी के पुराने कर्मचारी के हवाले से बताया था कि 2015 में Snapchat के सीईओ इवान स्पीगल ने अपने ऐप को अमीरों के लिए बताया था और वो भारत और स्पेन जैसे गरीब देशों में इसका विस्तार नहीं करना चाहते.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें