scorecardresearch
 

iPhone 14 Pro, Pro Max Review: ऐपल के दो अनमोल रतन, क्या खरीदने लायक हैं?

ऐपल ने अपनी आईफोन सीरीज के सबसे मैच्योर फोन iPhone 14 Pro और iPhone 14 Pro Max को मार्केट में उतार दिया है. मैच्योर होने के साथ ये काफी महंगे भी हैं और सवाल है कि क्या आपको इतने पैसे खर्च करने चाहिए. इस रिव्यू में हमने आपके ऐसे ही कुछ सवालों से जवाब देने की कोशिश की है, जो आपको एक बेहतर पिक्चर प्रोवाइड करेगी.

X
iPhone 14 Pro, iPhone 14 Pro Max iPhone 14 Pro, iPhone 14 Pro Max

किसी भी कंपनी के लिए हर साल कुछ नया करना मुश्किल होता है. ऐपल को भी ये मुश्किल हर साल फ़ेस करनी पड़ती है. शायद इसी लिए इस बार के iPhone 14 और iPhone 14 Pro काफ़ी फैमिलियर दिखते हैं. ऐसा लगता है कि जैसे iPhone 14 और iPhone 13 में कोई फ़र्क़ ही नहीं है. लेकिन ये बात सुन कर आप ये ना सोचें कि iPhone 14 Pro कोई ख़राब फ़ोन है, वो इसलिए क्योंकि iPhone Pro रेंज काफ़ी मैच्योर है और ओवरऑल लुक चाहे सेम हो, लेकिन उसमें कोई ख़राबी नहीं है.

तो चलिए बात करते हैं iPhone 14 और iPhone 14 Pro Max की — दोनों ही हैंडसेट लगभग एक ही हैं. इनमें केवल साइज और बैटरी का अंतर है. बाकि हार्डवेयर और फ़ीचर्स दोनों के सेम हैं, एक जैसे ही कैमरा और स्क्रीन की क्वॉलिटी भी है. अब थोड़ा और नज़दीक से इन दोनों डिवाइजेस को देखते हैं.

डिजाइन कैसा है?

अगर आपने iPhone 13 Pro देखा है या यूज किया है, तो मान लीजिए कि आपने iPhone 14 Pro भी देख लिया है. नए फोन में भी आपको वहीं पुराना रेक्टेंगुलर और बॉक्सी डिजाइन मिलेगा. वहीं फ्रेम और फ्रॉस्ट ग्लास आपको नए आईफोन में भी दिया गया है. कैमरा मॉड्यूल हल्का बदला हुआ है, जो पहले के मुकाबले अब थोड़ा सा बड़ा है. हालांकि, ये अंतर इतना बड़ा नहीं है कि आप आसानी से स्पॉट कर सकेंगे. iPhone 14 Pro पिछले iPhone 13 Pro के मुकाबले 1mm छोटा और लगभग आधे mm मोटा है.

iPhone 14 Pro Max का वजन 240 ग्राम है, जो iPhone 13 Pro Max जितना ही है. इसमें आपको बड़ा डिस्प्ले मिलेगा. मैक्स वेरिएंट एख हाथ से यूज करना थोड़ा मुश्किल है. खासकर अगर आपके हाथ छोटे हैं, तब तो दिक्कत और भी ज्यादा होगी. इसे यूज करने में मुझे कोई दिक्कत नहीं हुई, लेकिन इसका वजन कम होता तो ये ज्यादा बेहतर होता.

बाक़ी  iPhone Pro वेरिएंट्स की तरह इसकी बिल्ड क्वालिटी भी क्लासिक है. प्रीमियम एंड्रॉयड फोन्स के मुकाबले मुझे इसकी बिल्ड क्वालिटी काफी अच्छी लगी है. कह सकते हैं कि ये उनके मुक़ाबले एक लेवल ऊपर है. देखने में बेहतरीन और सॉलिड बिल्ड क्वालिटी वाला ये फोन प्रीमियम फील देता है. फोन IP68 रेटिंग के साथ आता और आप इसे पानी में भी आसानी से यूज कर सकते हैं. इस बार ऐपल ने एक नया डीप पर्पल कलर इंट्रोड्यूस किया है. हालाँकि देखने में वो ग्रे जैसा ही लगता है.

फोन का नॉच पहले से छोटा और डायनेमिक हो चुका है. प्रो वेरिएंट में आपको डायनेमिक आईलैंड का फीचर मिलता है. पुराने फोन के मुकाबले आपको इसका नॉच काफी छोटा लगेगा. ये एक मात्र ऐसा तरीका जिसकी वजह से आप देखकर iPhone 13 Pro और 14 Pro में अंतर बता सकते हैं. फिलहाल ये फीचर सभी ऐप्स के साथ काम नहीं करता है, लेकिन फ्यूचर में डेवलपर्स ऐप्स में इस फीचर को जोड़ सकते हैं. ऐपल ने इस फीचर को काफी हाईलाइट भी किया है. हालाँकि यूज करने में मुझे ये फ़ीचर ठीक ठाक ही लगा, ऐसा कोई बहुत ग्राउंडब्रेकिंग इनोवेशन जैसा नहीं लगा.

ऑल्वेज ऑन डिस्प्ले और परफॉर्मेंस

परफॉर्मेंस से जुड़े कुछ अपडेट्स आपको iPhone 14 Pro में देखने को जरूर मिलेंगे. इसमें सबसे पहला अपडेट ऑल्वेज ऑन डिस्प्ले है. स्क्रीन क्वालिटी की बात करें तो दोनों ही स्मार्टफोन में आपको एक्स्ट्रीम ब्राइट और वाइब्रेंट डिस्प्ले मिलेगा. ऐपल की मानें तो स्क्रीन की पीक ब्राइटनेस 2000Nits तक की है. दोनों ही स्मार्टफोन के OLED पैनल्स में एक जैसे कैरेक्टरिस्टिक के साथ आते हैं.

इसमें TrueTone फीचर काफी काम का है, जो एम्बिएंट लाइट के हिसाब से स्क्रीन का कलर टेम्परेचर चेंज करता है. ऐपल ने ऑल्वेज ऑन डिस्प्ले फीचर को एंड्रॉयड से काफी अलग बनाया है. जहां एंड्रॉयड फोन्स पर आपको सिर्फ ऐप्स नोटिफिकेशन और टाइम दिखता है. वहीं आईफोन में आपको पूरा वॉलपेपर दिखेगा, लेकिन लो-ब्राइटनेस और 1Hz रिफ्रेश रेट पर. ये सामान्य ऑल्वेज ऑन डिस्प्ले से काफी अलग है और जब आप इसे यूज करते हैं तो इसकी आदत पड़ने में थोड़ा वक्त जरूर लगता है.

A16 Bionic की बात करें तो ये चिपसेट कमाल का है. हालांकि, इसका बहुत ज्यादा फायदा नहीं है. क्योंकि रेगुलर इस्तेमाल में iPhone 13 Pro और iPhone 14 Pro की परफॉर्मेंस में कोई अंतर नजर नहीं आता है. यहां तक की अगर आप iPhone 12 Pro या 11 Pro भी इस्तेमाल करते होंगे, तो भी आपको परफ़ॉर्मेंस कोई ख़ास अंतर नजर नहीं आएगा. हां, 120Hz रिफ्रेश रेट का अंतर जरूर दिखेगा. हालांकि, 13 Pro में भी आपको इतना ही रिफ्रेश रेट मिलता है.

रेगुलर इस्तेमाल करते वक़्त फ़ोन ओवरहीट नहीं होता और ये अच्छी बात है. A16 Bionic चिपसेट का मेन फ़ायदा ये है कि फ़ोन फ्यूचर प्रूफ़ हो जाता है. हो सकता है आपको अभी iPhone 14 और iPhone 12 की परफ़ॉर्मेंस में फ़र्क़ ना दिखे, लेकिन दो साल के बाद तक iPhone 14 फास्ट रहेगा, जबकि  iPhone 12 स्लो हो जाएगा.

ऐपल का कहना है कि iPhone 14 Pro में बैटरी लाइफ़ इंप्रूव हुई है. हालांकि, रेगुलर यूज में मुझे पिछले वेरिएंट्स से कोई बहुत ज्यादा अंतर नहीं दिखा. यूज करने के दौरान मैंने पाया कि iPhone 14 Pro Max 14 से 16 घंटे आराम से चल जाता है. ऐपल का कहना कि iPhone 14 Pro में आपको फास्ट चार्जिंग का सपोर्ट मिलता है, लेकिन ऐपल की फास्ट चार्जिंग एंड्रॉयड जैसी नहीं है. फोन को चार्ज होने में 80 से 90 मिनट्स का वक्त लगता है.

एक नया फीचर जो ऐपल ने जोड़ा है, वो है कार क्रैश डिटेक्शन का. इस फीचर की वजह से एक्सिडेंट होने पर फोन ऑटोमेटिक इमरजेंसी नंबर पर कॉल कर देगा. मैंने इस फीचर को टेस्ट नहीं किया है और इसका करने का इरादा भी नहीं है. ऐसा एक फीचर फोन में है ये जानकार ही खुश हूं. इसके अलावा सैटेलाइट कनेक्टिविटी का भी फीचर भी है, लेकिन अभी ये फोन पर आया नहीं है और शायद भारत में हाल फ़िलहाल आए भी ना.

कैमरा कैसा है?

स्मार्टफोन का कैमरा मॉड्यूल भले ही देखने में आपको पुराने iPhone जैसा लग रहा हो, लेकिन इसमें काफी कुछ नया है. सबसे पहले तो इसमें 48MP का मेन कैमरा दिया गया है.  इसके अलावा 12 मेगापिक्सल का अल्ट्रा वाइड और 12 मेगापिक्सल का टेलीफ़ोटो कैमरा भी फ़ोन में है.

डिफॉल्ट तौर पर फोन 12MP मोड में ही फोटोज क्लिक करता है. मेगापिक्सल गेम को छोड़ दें तो लेटेस्ट आईफोन में आपको बेहतरीन कैमरा एक्सपीरियंस मिलेगा. ऐपल की मानें तो वो फोटो प्रोसेसिंग के लिए Photonic Engine का इस्तेमाल कर रहे हैं, लेकिन iPhone 13 Pro के मुकाबले ये अंतर बहुत मामूली है. एंड्रॉयड फोन्स से कंपेयर करें तो iPhone 14 Pro की परफॉर्मेंस काफी बेहतर है.

इसमें आपको बेहतरीन डिटेल्स और कलर डेप्थ मिलेगा. खासकर लो-लाइट में तो कैमरा बेहतरीन काम करता है, लेकिन मेरा मानना है कि लेटेस्ट Google Pixel की परफॉर्मेंस ज्यादा बेहतर है. एक एरिया जहां ऐपल और बेहतर काम कर सकता था वो है इमेज प्रोसेसिंग.

वीडियो की बात करें तो बाक़ी सब के मुक़ाबले iPhone 14 Pro बेस्ट ऑप्शन है. इसका सिनेमैटिक मोड 4K रेज्योलूशन वाले वीडियो 60FPS पर रिकॉर्ड कर सकता है. कंटेंट क्रिएटर्स को यह जरूर पसंद आएगा. रिकॉर्ड के वक्त विभिन्न कैमरा लेंस के बीच स्विच करना भी बहुत आसान है, जो इसके एक और प्लस पॉइंट देता है. 

ऐपल ने इस बार Action Mode दिया है, जो चलते हुए या दौड़ते हुए वीडियो रिकॉर्ड करने पर जिटर को कम करता है.  फ्रंट में कंपनी ने 12MP का सेल्फी कैमरा दिया है, जो F1.9 अपर्चर के साथ आता है और इसमें नाइट मोड का भी सपोर्ट मिलता है. इसकी परफॉर्मेंस ठीक ठाक ही है जो आपके दूसरे फ़्लैगशिप में भी मिलते हैं.

iPhone 14 Pro review: क्या इस कीमत पर खरीदना चाहिए?

साफ-साफ कहूं तो नहीं, लेकिन फिर ये आपकी जरूरतों पर भी निर्भर करता है. अगर आप एक बेस्ट फोन चाहते हैं, तो iPhone 14 Pro खरीद सकते हैं. ये महंगा जरूर है, लेकिन किसी भी एंड्रॉयड फोन से बेहतर है. यहां आप किसी भी एंड्रॉयड फोन को दो साल तक इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन ये आसानी से चार साल तक इस्तेमाल किया जा सकेगा. लेकिन अगर प्रैक्टिकल प्वाइंट ऑफ व्यू से सोचें तो iPhone 14, जो कि थोड़ा सस्ता है, एक बेहतर ऑप्शन हो सकता है.

iPhone 14 Pro की कीमत 1,29,900 रुपये से शुरू होती है. महँगा है, लेकिन आगर आप इतना पैसा खर्च करें तो आपको नो नॉनसेंस फ़ोन भी मिलेगा, क्योंकि इसमें आपको किसी तरह का ड्रामा नहीं मिलेगा. फोन में आपको टॉप क्वालिटी हार्डवेयर, बेहतरीन और क्लासिक डिजाइन के साथ iOS 16 मिलेगा. ये सभी चीजें आपको किसी एंड्रॉयड फोन में नहीं मिलेगा. मुझे लगता है कि आईफोन 14 या 14 प्रो को खरीदने की यह सबसे बड़ी वजह है.

अगर आप iPhone 13 Pro यूज कर रहे हैं तो क्या आपको iPhone 14 Pro सीरीज खरीदनी चाहिए?

-- बिलकुल नहीं. अगर आपके पास बहुत पैसे हैं, तो उसे खर्च करने के और भी तरीक़े हैं.

अगर आप iPhone 12 Pro यूज कर रहे हैं, तो नई आईफोन सीरीज खरीदनी चाहिए?

-- नहीं

अगर आप इससे पुराना iPhone यूज कर रहे हैं, तो क्या आपको iPhone 14 Pro या 14 Pro Max खरीदना चाहिए?

-- हां, अगर आप iPhone 11 या उससे भी पुराना आईफ़ोन यूज कर रहे हैं, तो अपग्रेड कर सकते हैं.

क्या आपको एंड्रॉयड फोन से iPhone 14 Pro पर मूव करना चाहिए?

-- अगर आपका मन फोन चेंज करने का है, तो ऐसा कर सकते हैं. ये महँगा ऑप्शन है, लेकिन किसी भी एंड्रॉयड फ़ोन से बेहतर भी है.

क्या iPhone 14 Pro और iPhone 14 Pro Max बेस्ट फोन?

हां, भारत में इस वक्त ये दोनों फोन मेरी हिसाब से बेस्ट ऑप्शन हैं.

क्या iPhone 14 Pro या iPhone 14 Pro Max अपनी कीमत को जस्टिफाई करते हैं?

-- यूज और फीचर के मामले तो ऐसा नहीं है. आपको ऐसा ही एक्सपीरियंस और फंक्शन iPhone 14 और कुछ एंड्रॉयड फोन्स में भी मिलता है. हालांकि, अगर आप ज्यादा पैसे खर्च करते हैं, तो अगले तीन से चार साल तक iPhone 14 Pro को आसानी से यूज कर सकेंगे. इस वजह से ये अपना प्राइस जस्टिफ़ाई करता है.

iPhone 14 Pro या iPhone 14 Pro Max कौन सा फोन बेहतर ऑप्शन है?

iPhone 14 Pro Max में आपको बेहतर बैटरी लाइफ और बेहतर स्क्रीन एक्सपीरियंस मिलेगा. इसे साइज में बड़े होने का बेनिफिट मिलता है. मुझे लगता है इसके लिए 10 हजार रुपये ज्यादा खर्च किए जा सकते हैं. हां, इसका वजन 240 ग्राम है, जिस पर भी गौर किया जाना चाहिए. अगर आप एक हैंडी फोन चाहते हैं और आपके हाथ थोड़े छोटे हैं तो iPhone 14 Pro आपके लिए बेहतर ऑप्शन होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें