scorecardresearch
 
टेक्नोलॉजी

ख़ुद को गूगल सर्च में ऐड कर सकते हैं, भारत के लिए आया ये फ़ीचर

ख़ुद को गूगल सर्च में ऐड कर सकते हैं, भारत के लिए आया ये फ़ीचर
  • 1/8
Google ने भारत में वर्चुअल बिज़नेस कार्ड फ़ीचर लॉन्च किया है.  ये एक तरह का गूगल सर्च फ़ीचर है जिसके तहत लोगों की ऑनलाइन प्रेजेंस और उनका बिज़नेस ज़्यादा लोगों तक पहुँच पाएगा.
ख़ुद को गूगल सर्च में ऐड कर सकते हैं, भारत के लिए आया ये फ़ीचर
  • 2/8
कंपनी ने कहा है कि गूगल ने People Cards नाम का ये फीचर सबसे पहले भारत में लॉन्च किया है. चूंकि भारत में दुनिया भर में इंटरनेट यूज के मामले में दूसरा सबसे बड़ा मुल्क है.
ख़ुद को गूगल सर्च में ऐड कर सकते हैं, भारत के लिए आया ये फ़ीचर
  • 3/8
गूगल सर्च में भी अब आप ख़ुद को ऐंड कर सकते हैं. यानी कोई ज़रूरी नहीं है गूगल सर्च में फ़ीचर होने के लिए आपके पास ब्लॉग, वेबसाइट या फिर यूट्यूब अकाउंट होना चाहिए.
ख़ुद को गूगल सर्च में ऐड कर सकते हैं, भारत के लिए आया ये फ़ीचर
  • 4/8
गूगल ने एक स्टेटमेंट में कहा है, ‘ये नय फ़ीचर लाखों इंडिविजुअल, इन्फ्लूएंसर्स, बिज़नेस करने वाले, फ्रीलांसर्स या कोई और जो ख़ुद को सर्च में डिस्कवर्ड होना चाहते हैं उन्हें हेल्प करने के लिए बनाया गया है ताकि लोग उन्हें ढूँढ सकें. आज से भारत भर में यूज़र्स अपने मोबाइल फ़ोन्स से लोगों को डिस्कवर कर सकते है'
ख़ुद को गूगल सर्च में ऐड कर सकते हैं, भारत के लिए आया ये फ़ीचर
  • 5/8
People Cards बनाना आसान है और हम आपको इसके तरकी भी बताते हैं. People Cards

— सबसे पहले अपने गूगल अकाउंट से साइन इन करें.
— गूगल सर्च बॉक्स में अपना नाम लिखें या फिर add me to search type करें.
ख़ुद को गूगल सर्च में ऐड कर सकते हैं, भारत के लिए आया ये फ़ीचर
  • 6/8
— यहां ख़ुद को गूगल सर्च में ऐड करने का ऑप्शन ओपन होगा.
— यहां आपसे आपकी जानकारी फ़िल करने को कहा जाएगा. जैसे आपके सोशल अकाउंट्स, क्या करते हैं, फ़ोन नंबर और किस कंपनी में काम करते हैं. इसके बाद सेव करना है.
ख़ुद को गूगल सर्च में ऐड कर सकते हैं, भारत के लिए आया ये फ़ीचर
  • 7/8
यहां प्रोफ़ाइल इमेज भी यूज कर सकते हैं जो गूगल अकाउंट से लिंक्ड होगा. ध्यान देने वाली बात ये है कि गूगल कार्ड आप बिना फ़ोन नंबर वेरिफ़िकेशन के नहीं बना सकते हैं.

ख़ुद को गूगल सर्च में ऐड कर सकते हैं, भारत के लिए आया ये फ़ीचर
  • 8/8
गौरतलब है कि कार्ड बनाने के प्रोसेस में सबसे पहले फ़ोन नंबर माँगा जाएगा और ओटीपी एंटर करने के बाद ही ये प्रोसेस शुरू होगा.