scorecardresearch
 

WhatsApp से पहले Hike लॉन्च कर सकता है पेमेंट सिस्टम

एक्सपर्ट्स का मानना है कि WhatsApp को अपना पेमेंट प्लैटफॉर्म लॉन्च करने में कम से कम छह महीने का समय लेगा. लेकिन Hike का पेमेंट सिस्टम बन कर तैयार है और इसे जल्द ही लॉन्च किया जा सकता है.

Hike Logo Hike Logo

हाल ही में रिपोर्ट्स से यह खुलासा हुआ था कि इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप जल्द ही भारत में डिजिटल पेमेंट की शुरुआत करेगी. लेकिन अब खबर यह है कि स्वदेशी इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप Hike व्हाट्सऐप से पहले ही डिजिटल पेमेंट लॉन्च करने की तैयारी में है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक Hike में पेमेंट सर्विस लाने के लिए चीनी इंटरनेट दिग्गज टेंसेंट ने वेंचर कैपिटल फंड निवेश किया है. यानी अगर कंपनी ने ऐसा किया तो Hike पहला स्वदेशी मैसेंजर होगा जिसमें डिजिटल पेमेंट का भी फीचर दिया जाएगा.

पिछले साल टेंसेंट और फॉक्सकॉन ने Hike में 175 मिलिनय डॉलर का निवेश किया है . रिपोर्ट्स के मुताबिक Hike अपने मैसेंजर में UPI प्लैटफॉर्म को लिंक करके पेमेंट सिस्टम शुरू करेगी.

एक्सपर्ट्स का मानना है कि WhatsApp को अपना पेमेंट प्लैटफॉर्म लॉन्च करने में कम से कम छह महीने का समय लेगा. लेकिन Hike का पेमेंट सिस्टम बन कर तैयार है और इसे जल्द ही लॉन्च किया जा सकता है.

अगर आपने WeChat यूज किया है या इसका नाम सुना है तो आपको शायद पता होगा कि इसकी पेरेंट कंपनी टेंसेंट ही है. गौरतलब है कि WeChat चीन के सबसे बड़े मैसेंजर बेस्ड बेमेंट सिस्टम में से एक है और यह Hike के लिए काफी मददगार साबित हो सकता है.

जाहिर है मैसेंजर में UPI प्लेटफॉर्म लिंक करने के लिए कंपनी को जरूरत होगी कि कई बैंक भी साथ जुड़ें. इसलिए Hike भारतीय बैंकों के साथ भी करार कर सकता है. हालांकि अभी तक कंपनी ने आधिकारिक तौर पर इसका ऐलान नहीं किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×