scorecardresearch
 

देश का खाते हो तो देश का विरोध क्यों: शिखर धवन

देश का खाते हो तो देश का विरोध क्यों: शिखर धवन

क्रिकेट तो एक खेल है, मैदान में खेला जाता है. लेकिन ये खिलाड़ी देश के लिए ना सिर्फ खेलते हैं बल्कि देश के लिए मुराद भी मांगते हैं. ये खिलाड़ी हम में और आप में देशभक्त होने का गर्व महसूस करा रहे हैं. ये खास बुलेटिन कर रहा है देश को सलाम

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें