scorecardresearch
 

विलियमसन की टीम 'डरपोक’, बंदूक लेकर उतरी, पर गोलियां नहीं चलाईं, बोले मैक्कुलम

न्यूजीलैंड ने इंग्लैंड को हराकर विश्व कप फाइनल में जगह बनाई थी, लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने उसे 8 विकेट से हराकर उसका इस साल दूसरा आईसीसी खिताब जीतने का सपना तोड़ दिया.

Kane Williamson (Getty) Kane Williamson (Getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कीवी टीम को फाइनल में AUS के हाथों हार झेलनी पड़ी
  • इस साल दूसरा आईसीसी खिताब जीतने का सपना टूट गया

न्यूजीलैंड की टीम को टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार झेलनी पड़ी. न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान ब्रैंडन मैक्कुलम का मानना है कि फाइनल में टीम थोड़ा डरपोक नजर आई और आक्रामक अंदाज होने के बावजूद खिलाड़ी उसका इजहार नहीं कर पाए.

न्यूजीलैंड ने इंग्लैंड को हराकर विश्व कप फाइनल में जगह बनाई थी, लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने उसे 8 विकेट से हराकर उसका इस साल दूसरा आईसीसी खिताब जीतने का सपना तोड़ दिया.

मैक्कुलम ने कहा कि उनकी टीम के खिलाड़ियों ने फाइनल में अपनी क्षमता का सही इस्तेमाल नहीं किया, जिससे उसे हार का सामना करना पड़ा. टीम ने वैसा आक्रामक रवैया नहीं अपनाया, जिसकी कि इस तरह के मैच में जरूरत थी.

उन्होंने कहा, ‘मैं यह नहीं कहना चाहता हूं कि जहां बंदूक से काम चलना था वहां हम चाकू लेकर गए. हम बंदूक लेकर ही गए, लेकिन हमने गोलियां नहीं चलाईं, हम थोड़ा डर गए थे. हम मौका चूक गए. हम जिन गोलियों को साथ लेकर गए थे, हमने उनका उपयोग नहीं किया.’

Aus vs Nz (Getty)

मैक्कुलम ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया जैसी टीम का सामना करने के लिए न्यूजीलैंड को अधिक आक्रामक रवैया अपना चाहिए था. उन्होंने विशेषकर मार्टिन गुप्टिल का जिक्र किया. जो टीम को तेजतर्रार शुरुआत नहीं दिला पाए.

मैक्कुलम ने कहा, ‘मुझे उनसे (गुप्टिल) थोड़ा अधिक आक्रामकता की उम्मीद थी. फाइनल में उन्होंने 35 गेंदों पर 28 रन बनाए, जो अच्छा नहीं दिखता.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें