scorecardresearch
 

वकार की माफी नाकाफी और बहुत देर से: पूर्व कप्तान

वर्ल्ड टी20 में पाकिस्तानी टीम के शर्मनाक प्रदर्शन के लिए कोच वकार युनूस की सार्वजनिक माफी से असंतुष्ट पूर्व कप्तान रमीज राजा और मोहम्मद युसूफ ने कहा है कि यह माफी काफी देर से मांगी गई और नाकाफी है. पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने कहा कि वकार ने जिस तरह मीडिया के सामने माफी मांगी, उससे वह काफी आहत हैं.

वकार ने अपनी रिपोर्ट में अफरीदी की कप्तानी कौशल में कमी बताई वकार ने अपनी रिपोर्ट में अफरीदी की कप्तानी कौशल में कमी बताई

वर्ल्ड टी20 में पाकिस्तानी टीम के शर्मनाक प्रदर्शन के लिए कोच वकार युनूस की सार्वजनिक माफी से असंतुष्ट पूर्व कप्तान रमीज राजा और मोहम्मद युसूफ ने कहा है कि यह माफी काफी देर से मांगी गई और नाकाफी है. पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने कहा कि वकार ने जिस तरह मीडिया के सामने माफी मांगी, उससे वह काफी आहत हैं.

शोएब ने जियो न्यूज से कहा, ‘वकार हमारे महान खिलाड़ियों में से एक है और उसे इस तरह माफी मांगते देखना दुखद था. मुझे नहीं लगता कि किसी एक के माफी मांगने से कुछ बदलेगा. पाकिस्तान क्रिकेट को ढर्रे पर लाने के लिए काफी प्रयास करने होंगे.’ रमीज ने इसी चैनल पर कहा कि अतीत में भी कई लोगों को नतीजे नहीं दे पाने के बावजूद माफ किया गया है. उन्होंने कहा, ‘कोई भी आलोचना का सामना करने या खुद इस्तीफा देने के लिए तैयार नहीं है. यदि टीम अच्छे नतीजे देती तो हालात दीगर होते. दुखद बात यह है कि प्रदर्शन या मानसिकता में कोई बदलाव नहीं है. अब बदलाव का समय है.’ युसूफ ने कहा कि अब वकार के माफी मांगने का कोई तुक नहीं है.

उन्होंने कहा, ‘वह हमारे महान खिलाड़ियों में से है और उसे जूनियर टीम देना बेहतर होगा जैसे कि राहुल द्रविड़ भारत के जूनियर खिलाड़ियों के साथ काम कर रहे हैं. मुझे यकीन है कि वह अच्छे नतीजे और खिलाड़ी देंगे.’

वकार के निशाने पर अफरीदी
आलोचनाओं का शिकार पाकिस्तान के मुख्य कोच वकार यूनुस ने हाल की कुछ सीरीजों में राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के प्रदर्शन पर अपनी रिपोर्ट पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष शहरयार खान को सौंप दी. सूत्रों के अनुसार वकार ने टीम के खिलाड़ियों पर काफी कड़ी रिपोर्ट दी है. सूत्र के मुताबिक वकार ने टीम के खिलाड़ियों पर कड़ी रिपोर्ट दी है और कहा है कि अधिकांश खिलाड़ी कोच की रणनीति को अमलीजामा पहनाने में नाकाम रहे. वकार ने खास तौर पर कहा है कि कुछ खिलाड़ी कड़ी मेहनत करने या कोचिंग स्टाफ के सुझावों को लागू करके उन्हें सहयोग देने के इच्छुक नहीं थे. इसके मुताबिक कोच वकार साथ ही शाहिद अफरीदी की कप्तानी से भी खुश नहीं थे.

उन्होंने कहा, ‘वकार ने शाहिद अफरीदी के कप्तानी कौशल और उनके कुछ फैसलों पर भी सवाल उठाया है. कुल मिलाकर मुख्य कोच स्पष्ट तौर पर खिलाड़ियों से खुश नहीं हैं.’ पीसीबी प्रमुख ने यह रिपोर्ट तथ्य अन्वेषण समिति को सौंप दी है जिसका गठन एशिया कप और वर्ल्ड टी20 के अलावा इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले की सीरीज में टीम के लचर प्रदर्शन की जांच के लिए किया गया है.

तथ्य अन्वेषण समिति की लाहौर में तीन दिवसीय बैठक चल रही है. टेस्ट कप्तान मिसबाह उल हक और सीनियर बल्लेबाज यूनिस खान की मौजूदगी वाली इस समिति को बोर्ड ने राष्ट्रीय टीम के कप्तान, कोच, मैनेजर और सीनियर खिलाड़ियों से मिलने और उनसे बात करने का अधिकार दिया है. समिति कप्तान, कोच और मैनेजर की रिपोर्ट का अध्ययन करेगी और इसके बाद आगे फैसला करेगी.

अफरीदी बाहर किए जाएंगे!
सूत्र के अनुसार वकार ने पीसीबी अध्यक्ष को कुछ सिफारिशें की हैं और उन्हें साफ तौर पर कहा है कि पाकिस्तान टीम में सुधार के लिए कुछ कड़े फैसले करने की जरूरत है जिसमें कुछ सीनियर खिलाड़ियों को टीम से बाहर करना भी शामिल है. इस बीच कुछ दिन दुबई में रुकने के बाद अफरीदी कराची लौट आए हैं.

सूत्र ने बताया कि तथ्य अन्वेषण समिति के समक्ष पेश होने के लिए अफरीदी आज लाहौर में हैं. सूत्र ने बताया, ‘शाहिद को पता है कि पाकिस्तान कप्तान के रूप में उसके दिन खत्म हो गए हैं और वह केवल खिलाड़ी के रूप में उपलब्ध रहकर अपने अंतरराष्ट्रीय करियर को लंबा खींचने का प्रयास कर रहा है. लेकिन वकार ने उसका नाम उन सीनियर खिलाड़ियों में शामिल किया है जिनके बारे में उनका मानना है कि उन्हें टीम से बाहर करने की जरूरत है.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें