scorecardresearch
 

स्पॉट फिक्सिंग के दोषी आमिर की वापसी से खुश हैं विराट कोहली

क्रिकेट पंडित अभी तक पसोपेश में है कि पाकिस्तान के दोषी स्पॉट फिक्सर मोहम्मद आमिर को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खेलने की अनुमति देनी चाहिए थी कि नहीं लेकिन भारतीय उप कप्तान विराट कोहली इस प्रतिभाशाली तेज गेंदबाज की उनकी राष्ट्रीय टीम में वापसी की खबर से ‘खुश’ हैं.

X
मोहम्मद आमिर का विराट कोहली का समर्थन
मोहम्मद आमिर का विराट कोहली का समर्थन

क्रिकेट पंडित अभी तक पसोपेश में है कि पाकिस्तान के दोषी स्पॉट फिक्सर मोहम्मद आमिर को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खेलने की अनुमति देनी चाहिए थी कि नहीं लेकिन टीम इंडिया के उप कप्तान विराट कोहली इस प्रतिभाशाली तेज गेंदबाज की उनकी राष्ट्रीय टीम में वापसी की खबर से ‘खुश’ हैं.

2010 में इंग्लैंड दौरे के दौरान स्पॉट फिक्सिंग में लिप्त होने के बाद मोहम्मद आमिर पर पांच साल के लिए बैन लगाया गया था. उन्होंने निलंबन अवधि को पूरा करने के बाद इस साल वापसी की है.

जब विराट कोहली से पाकिस्तान के खिलाफ मैच के बारे में पूछा गया तो उन्होंने आमिर की वापसी के बारे में बात की.

कोहली ने कहा, ‘मुझे पाकिस्तान के खिलाफ खेलने में कुछ भी अलग नहीं लगता. वही क्रिकेट होता है. मैं सभी प्रतिद्वंद्वियों को एक ही नजर से देखता हूं. पाकिस्तान के खिलाफ मैच निश्चित रूप से प्रतिस्पर्धी होते हैं. लोग भले ही उत्साही हो जाते हों लेकिन खिलाड़ियों के लिए यह मैच वैसा ही होता है जैसा किसी अन्य टीम के खिलाफ. मैं आमिर की वापसी से खुश हूं, यह देखकर अच्छा लगता है कि उसे अपनी गलती का अहसास हुआ और उसने इससे सीख लेकर खुद को ठीक किया.’

विराट कोहली उन कुछ गैर पाकिस्तानी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों में से एक हैं, जिन्होंने आमिर की वापसी का स्वागत किया है.

इसी साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में हुई वापसी
आमिर को इसी साल न्यूजीलैंड के खिलाफ राष्ट्रीय टीम में शामिल किया गया था. हालांकि न्यूजीलैंड के खिलाफ वापसी मैच में हूटिंग का सामना करना पड़ा था. आमिर के सामने नोट भी लहराए गए थे. बैन समाप्ति के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी के मैच में उन्होंने पहली बॉल वाइड फेंकी. ओवर खत्म होने के बाद जब वो बाउंड्री पर फील्डिंग के लिए गए तो दर्शकों ने उनकी हूटिंग की और नोट लहराए. सिक्योरिटी इंचार्ज से शिकायत करने के बाद दर्शकों को चेतावनी दी गई. लेकिन आमिर केवल 8.1 ओवर्स डालने के बाद मैदान से बाहर चले गए.

वापसी के बाद पहले वनडे में लिए तीन विकेट
आमिर किस कदर टैलेंटेड हैं इसका सबूत इसी बात से मिलता है कि वापसी के बाद खेले गए इस पहले वनडे में उन्होंने 8.1 ओवर में 28 रन देकर 3 विकेट झटके. हालांकि पाकिस्तान टीम ये मैच बचा नहीं पाई और 70 रनों से हार गई. इससे पहले न्यूजीलैंड के खिलाफ ही आमिर ने तीन टी-20 मैच भी खेले थे, जिसमें उन्हें सिर्फ एक विकेट मिला था.


कोर्ट ने भेजा था जेल

2010 में इंग्लैंड के खिलाफ लार्ड्स में खेले गए टेस्ट मैच के दौरान स्पॉट फिक्सिंग में भूमिका होने के कारण आईसीसी ने मोहम्मद आमिर को पांच साल के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सस्पेंड कर दिया था. नवंबर 2011 में तीन पाकिस्तानी क्रिकेटर मोहम्मद आमिर, सलमान बट और मोहम्मद आसिफ को लंदन की एक अदालत ने मैच फिक्सिंग में दोषी करार दिया था और उन्हें छह महीने के लिए जेल की सजा सुनाई गई थी. इसके बाद आईसीसी ने भी उन पर पांच साल का बैन लगा दिया, जो बीते साल 1 सितंबर को खत्म हुआ.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें