scorecardresearch
 

बोल्ट ने बदला 2016 ओलंपिक के बाद संन्यास का इरादा

ओलंपिक चैम्पियन उसेन बोल्ट ने 2016 ओलंपिक के बाद संन्यास का अपना इरादा बदल दिया है.

उसेन बोल्ट उसेन बोल्ट

ओलंपिक चैम्पियन उसेन बोल्ट ने 2016 ओलंपिक के बाद संन्यास का अपना इरादा बदल दिया है.

तीन सप्ताह पहले ही बोल्ट ने कहा था कि वे 2016 ओलंपिक के बाद संन्यास ले सकते हैं. लेकिन उन्होंने गुरुवार को कहा कि वे अब 2017 में लंदन में होने वाली विश्व चैम्पियनशिप खेलेंगे.

एक किताब के प्रचार के लिये लंदन आये बोल्ट ने कहा, ‘मैं अपने फैसले पर फिर से विचार कर रहा हूं. मुझे लगता है कि मेरे प्रशंसक मेरे संन्यास के फैसले से खुश नहीं हैं. उन्हें लगता है कि मुझे और खेलना चाहिये. मैंने अपने कोच से बात की, जिन्होंने कहा कि मैं और खेल सकता हूं. मुझे लगता है कि एक साल और बढा़या जा सकता है.’ उन्होंने कहा कि 2020 टोक्यो ओलंपिक उनके जेहन में नहीं है.

उसेन बोल्‍ट ने कहा, ‘अभी उसमें काफी समय है, लेकिन अगर मैं अगले ओलंपिक में जीतता हूं, तो सारे लक्ष्य हासिल हो जायेंगे. उसके बाद खेलते रहने का कोई मतलब नहीं है.’

बोल्ट ने बीजिंग ओलंपिक में 100, 200 मीटर और चार गुणा 100 मीटर रिले खिताब जीता था. पिछले साल लंदन ओलंपिक में उन्होंने इसे दोहराया. विश्व चैम्पियनशिप 2009 और पिछले महीने मास्को में उन्होंने ये तीनों स्वर्ण जीते. अभी तक राष्ट्रमंडल खेलों में भाग नहीं ले सके बोल्ट की नजरें 2014 ग्लासगो खेलों पर है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें