scorecardresearch
 

टी-20 वर्ल्ड कप: श्रीलंका के खिलाफ इंग्लैंड की शानदार जीत, हेल्स ने जड़ा शतक

एलेक्स हेल्स (नाबाद 116) और इयोन मोर्गन (57) की शानदार पारियों की मदद से इंग्लैंड ने गुरुवार को खेले गए आईसीसी टी-20 वर्ल्ड कप के अपने दूसरे ग्रुप-1 मुकाबले में श्रीलंका को 6 विकेट से हरा दिया.

X
एलेक्स हेल्स एलेक्स हेल्स

एलेक्स हेल्स (नाबाद 116) और इयोन मोर्गन (57) की शानदार पारियों की मदद से इंग्लैंड ने गुरुवार को खेले गए आईसीसी टी-20 वर्ल्ड कप के अपने दूसरे ग्रुप-1 मुकाबले में श्रीलंका को 6 विकेट से हरा दिया. हेल्स ने टी-20 मैचों का 11वां और टी-20 वर्ल्ड कप का पांचवां शतक लगाया.

इंग्लैंड के लिए वर्ल्ड कप और टी-20 इंटरनेशनल मैचों में पहला शतक लगाने वाले हेल्स ने छक्के के साथ अपनी टीम को जीत दिलाई. हेल्स ने 64 गेंदों पर 11 चौके और छह छक्के लगाए. इंग्लैंड की दो मैचों में यह पहली जीत है जबकि श्रीलंका को तीन मैचो में पहली हार मिली है.

हेल्स और रवि बोपारा (नाबाद 11) ने अंतिम 14 गेंदों पर 34 रनों की साझेदारी की. इसकी बदौलत इंग्लिश टीम ने 19.2 ओवरों में ही 190 रनों का लक्ष्य हासिल कर लिया. यह लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड की टी-20 मैचों में सबसे बड़ी जीत है.

इंग्लैंड की यह जीत मोर्गन के बगैर अधूरी रह जाती. मोर्गन ने हेल्स के साथ ऐसे समय में 152 रनों की साझेदारी निभाई, जब इंग्लिश टीम ने 0 के स्कोर योग पर दो विकेट गंवा दिए थे. नुवान कुलसेकरा ने पारी की पांचवीं और छठी गेंद पर क्रम से माइलक लैंब (0) और मोइन अली (0) चलता किया था.

मोर्गन का विकेट 152 रनों के कुल योग पर गिरा. उन्होंने 38 गेंदों की पारी में 7 चौके और 2 छक्के लगाए. मोर्गन की जगह क्रीज पर आए जोस बटलर (2) भारी रन रेट के दबाव को झेल नहीं सके और आउट हो गए.

इसके बाद बोपारा मैदान पर आए. तब तक इंग्लैंड को प्रति ओवर 11 रन चाहिए थे. बोपारा ने हेल्स के साथ इस चुनौती को स्वीकार किया. उन्होंने छह गेंदों पर दो चौके लगाए. उनके मैदान पर आने के बाद हालांकि जरूरत के ज्यादातर रन हेल्स ने बनाए.

श्रीलंका की ओर से कुलसेकरा ने चार ओवर में 32 रन देकर चार विकेट लिए. अजंता मेंडिस ने अपने 4 ओवर के कोटे में 52 रन लुटाए. हेल्स ने उनके चौथे ओवर में तीन छक्के लगाए थे. हेल्स को मैन ऑफ द मैच चुना गया. इससे पहले, श्रीलंका ने टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवरों में चार विकेट पर 189 रन बनाए. माहेला जयवर्धने ने 51 गेंदों पर 11 चौकों और तीन छक्कों की मदद से 89 रनों की शानदार पारी खेली जबकि तिलकरत्ने दिलशान ने 47 गेंदों पर चार चौकों और दो छक्कों की मदद से 55 रन जोड़े.

इन दोनों ने 4 रन के कुल योग पर कुशल परेरा (3) का विकेट गिरने के बाद 145 रनों की साझेदारी निभाई. जयवर्धने का विकेट 149 रनों के कुल योग पर गिरा. इसके बाद 156 के कुल योग पर दिलशान आउट हुए. कुमार संगकारा (0) खाता नहीं खेल सके और 169 के कुल योग पर पवेलियन लौटे.

संगकारा का विकेट 19वें ओवर की पहली गेंद पर गिरा. इसके बाद एंजेलो मैथ्यूज (नाबाद 11) और थिसिरा परेरा (नाबाद 23) ने टीम को कोई नुकसान नहीं होने दिया. दोनों ने मात्र 11 गेंदों पर 20 रन जोड़े. मैथ्यूज ने पांच गेंदों पर 1 छक्का लगाया जबकि परेरा ने 12 गेंदों पर 2 चौके और 1 छक्का लगाया.

इंग्लैंड की ओर से जेड डेर्नबाक और क्रिस जॉर्डन ने 2-2 विकेट लिए. जॉर्डन ने 4 ओवरों में महज 28 रन खर्च किए लेकिन जेड ने 42 रन लुटा दिए. टिम ब्रिस्नन के चार ओवरों में 48 रन बने.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें