scorecardresearch
 

इंग्लैंड दौरे पर रवाना होने से पहले बोले धोनी- चुनौतीपूर्ण होगा दौरा, 2011 की हार से बहुत कुछ सीखा

टीम इंडिया शनिवार रात इंग्लैंड के लिए रवाना हो रही है. इंग्लैंड में टीम 5 टेस्ट, 5 वनडे और 1 टी20 अंतरराष्ट्रीय खेलेगी. इंग्लैंड के लिए रवाना होने से पहले टीम मैनेजमेंट ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जिसमें धोनी ने कहा कि हमें पिछली गलतियों का अहसास है और हम पहले टेस्ट मैच से पहले वहां के माहौल में ढलने की कोशिश करेंगे.

महेंद्र सिंह धोनी महेंद्र सिंह धोनी

टीम इंडिया शनिवार रात इंग्लैंड के लिए रवाना हो रही है. इंग्लैंड में टीम 5 टेस्ट, 5 वनडे और 1 टी20 अंतरराष्ट्रीय खेलेगी. इंग्लैंड के लिए रवाना होने से पहले टीम मैनेजमेंट ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जिसमें धोनी ने कहा कि हमें पिछली गलतियों का अहसास है और हम पहले टेस्ट मैच से पहले वहां के माहौल में ढलने की कोशिश करेंगे.

इंग्लैंड रवाना होने से पहले धोनी ने कहा कि यह दौरा काफी कठिन और लंबा दौरा है. उन्होंने कहा इस लंबे दौरे के लिए हम काफी पहले रवाना हो रहे हैं और इससे हमें फायदा होगा. कैप्टन कूल ने कहा कि हाल में ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और अफ्रीका दौरे हमारे लिए काफी कठिन व निराशाजनक रहे हैं. हमें इसका अहसास है.

भारत और इंग्लैंड के बीच 9 जुलाई को पहला टेस्ट खेला जाएगा. इससे पहले टीम 3-3 दिन के दो 2 प्रैक्ट‍िस मैच भी खेलेगी. धोनी की सेना वनडे सीरीज से पहले मिडलसेक्स के खि‍लाफ एक 50 ओवरों का मैच भी खेलेगी. धोनी ने कहा कि 2011 के इंग्लैंड दौरे में हमारे 8-9 खि‍लाड़ियों को चोट आ गई थी, जिसके कारण अन्य गेंदबाजों पर ज्यादा दबाव आ गया था.

धोनी ने इंग्लैंड दौरे के लिए 18 सदस्यों की टीम का बचाव करते हुए कहा कि यह लंबा दौरा है इसलिए बड़ी टीम ले जा रहे हैं. धोनी ने कहा, उम्मीद है कि हमें जहीर खान की कमी नहीं खलेगी, लेकिन उनकी जगह को भर पाना किसी भी गेंदबाज के लिए काफी मुश्‍कि‍ल काम होगा. उन्होंने कहा ज्यादातर बल्लेबाज भी नए हैं और उन्हें रिटायर हो चुके महान बल्लेबाजों की जगह को भरना है, जो आसान नहीं होगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें