scorecardresearch
 

गेल के तूफान में उड़ा कोलकाता, बैंगलोर जीता

क्रिस गेल ने अपने सदाबहार विस्फोटक अंदाज में 9 छक्कों की मदद से 85 रन की तूफानी पारी खेलकर बैंगलोर को टी20 लीग में मौजूदा चैंपियन कोलकाता पर 15 गेंद शेष रहते हुए 8 विकेट की शाही जीत दिलाई.

क्रिस गेल ने अपने सदाबहार विस्फोटक अंदाज में 9 छक्कों की मदद से 85 रन की तूफानी पारी खेलकर बैंगलोर को टी20 लीग में मौजूदा चैंपियन कोलकाता पर 15 गेंद शेष रहते हुए 8 विकेट की शाही जीत दिलाई.

कोलकाता की तरफ से कप्तान गौतम गंभीर ने 46 गेंद पर 59 रन बनाये, जबकि यूसुफ पठान ने 17 गेंद पर 27 रन ठोके. इससे पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर कोलकाता एक समय मजबूत स्कोर की तरफ बढ़ रहा था, लेकिन आखिरी 4 ओवरों में 5 विकेट गंवाने से वह आठ विकेट पर 154 रन ही बना पाया.

गेल ने 50 गेंद की नाबाद पारी में चार चौके भी जमाये तथा टी20 लीग में 14वां अर्धशतक लगाया. उन्होंने कप्तान विराट कोहली (27 गेंद पर 35 रन) के साथ दूसरे विकेट के लिये 63 और एबी डिविलियर्स (22 गेंद पर नाबाद 22) के साथ तीसरे विकेट के लिये 83 रन की अटूट साझेदारी की.

बैंगलोर ने केवल 17.3 ओवर में दो विकेट पर 158 रन बनाकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की. कोलकाता की यह तीन मैचों में दूसरी हार है. बैंगलोर ने बेहद धीमी शुरुआत की. उसने पहले पांच ओवर में केवल 21 रन बनाये और इस बीच मयंक अग्रवाल (6) का विकेट गंवाया. गेल और कोहली ने हालांकि पावरप्ले के आखिरी ओवर में 22 रन बटोरकर हिसाब बराबर कर दिया. रेयान मैकलारेन के इस ओवर में कोहली ने दो चौके तो गेल ने लांग आन और कवर के उपर से छक्के जमाये.

गेल ने हालांकि दूसरा छोर संभाले रखा था और कोलकाता के लिये यह सबसे बड़ी चिंता थी. सांगवान का दूसरा ओवर भी महंगा साबित हुआ जिसमें 15 रन बने. गेल ने बालाजी पर छक्का जड़कर टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया. गेल ने हमवतन सुनील नारायण को पूरा सम्मान दिया जिन्होंने चार ओवर में 17 रन दिये लेकिन विकेट नहीं ले पाये. इसके बाद उन्होंने हालांकि जाक कैलिस पर दो छक्के और एक चौका जड़कर मैच एकतरफा बना दिया. गेल ने बालाजी पर दो छक्के लगाकर टीम को लक्ष्य से भी आगे पहुंचा दिया.

इससे पहले बल्लेबाजी के लिये अनुकूल पिच पर कोलकाता को कम स्कोर पर रोकने में आरपी सिंह ने अहम भूमिका निभायी. उन्होंने लगातार दूसरे मैच में अच्छी गेंदबाजी की तथा 27 रन देकर तीन विकेट लिये. उनके अलावा मोएजेस हेनरिक्स और आर विनय कुमार को 2-2 विकेट मिले. कोलकाता को मानविंदर बिस्ला फिर से अपेक्षित शुरुआत नहीं दे पाये और पहले ओवर में ही पवेलियन लौट गये. गंभीर ने इसके बाद कैलिस (19 गेंद पर 16 रन) के साथ दूसरे विकेट के लिये सात ओवर में 51 रन की साझेदारी की.

जयदेव उनादकट पर पठान ने डीप स्क्वायर लेग पर छक्का जमाया. जब लग रहा था कि यह शाम पठान के नाम हो सकती है तब वह हेनरिक्स की गेंद की गति का अनुमान नहीं लगा पाये और मिड ऑन पर कैच उछाल बैठे. गंभीर ने दूसरे छोर से एंकर की भूमिका निभायी. उन्होंने 40 गेंदों पर सात चौकों की मदद से टी20 लीग में 18वां और टी20 में कुल 27वां अर्धशतक पूरा किया.

टी20 लीग में सर्वाधिक अर्धशतक लगाने का रिकार्ड गंभीर के नाम पर ही दर्ज है. कोलकाता ने 16वें ओवर के बाद 11 रन और 11 गेंद के अंदर गंभीर, इयोन मोर्गन (2) और मनोज तिवारी (16 गेंद पर 23) के विकेट गंवाये जिससे उसकी रनगति प्रभावित हुई. गंभीर ने उनादकट की गेंद डीप स्क्वायर लेग पर छह रन के लिये भेजी. उन्होंने विनय को भी यह सबक सिखाने का प्रयास किया लेकिन गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर हवा में लहरा गयी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें