scorecardresearch
 

इंडोनेशिया ओपन: खिताब से एक कदम दूर सिंधु, फाइनल में यामागुची से भिड़ेंगी

24 साल की स्टार शटलर पीवी सिंधु ने सेमीफाइनल में वर्ल्ड नंबर-3 चीन की चेन यू फेई को महज 46 मिनट में 21-19, 21-10 से मात दी.

पीवी सिंधु (Twitter) पीवी सिंधु (Twitter)

भारत की शीर्ष महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने इंडोनेशिया ओपन बैडमिंटन सुपर 1000 टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश कर लिया है. 24 साल की स्टार शटलर ने शनिवार को सेमीफाइनल में वर्ल्ड नंबर-3 चीन की चेन यू फेई को महज 46 मिनट में 21-19, 21-10 से मात दी.

वर्ल्ड नंबर-5 सिंधु ने इस जीत के साथ ही चेन यू फेई के खिलाफ अपना करियर रिकॉर्ड 5-3 का कर लिया है. भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ियों की बात करें तो शानदार लय में चल रहीं सिंधु के पास साइना नेहवाल के बाद इंडोनेशिया ओपन का महिला सिंगल्स खिताब जीतने का मौका है. साइना ने 2009, 2010 और 2012 में यह खिताब जीता था.

अब रविवार को फाइनल में सिंधु का मुकाबला जापान की वर्ल्ड नंबर-4 अकाने यामागुची से होगा. उन्होंने वर्ल्ड नंबर-1 ताइवान की ताइ जु यिंग को 32 मिनट में 21-9, 21-15 से मात दी. यामागुची के खिलाफ सिंधु का 10-4 का करियर रिकॉर्ड है.

सिंधु ने वर्ल्ड नंबर-2 जापान की नोजोमी ओकुहारा को 21-14, 21-7 से हराकर इंडोनेशिया ओपन के सेमीफाइनल में प्रवेश किया था. शुक्रवार को खेले गए महिला एकल के क्वार्टर फाइनल मैच में उन्होंने ओकुहारा को 44 मिनट में मात दी थी.

ऐसा रहा मुकाबला -

रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता सिंधु को फेई के खिलाफ पहले गेम में काफी संघर्ष करना पड़ा. फेई ने 3-1 की बढ़त के साथ मैच की शुरुआत की, लेकिन सिंधु ने इसके बाद 10-10 की बराबरी हासिल कर ली.

भारतीय खिलाड़ी फिर लय कायम नहीं रख पाई और 15-18 से पीछे हो गई. हालांकि अंतिम समय में उन्होंने पहले तो 18-18 से बराबरी हासिल की और फिर 21-19 से पहला गेम अपने नाम कर लिया.

दूसरे गेम में भी फेई ने 4-1की बढ़त के साथ शुरुआत की. लेकिन भारतीय खिलाड़ी ने शानदार वापसी करते हुए 7-5 की बढ़त बना ली. सिंधु इसके बाद अपनी बढ़त को लगातार बढ़ाती चली गईं. उन्होंने 16-8 की बेहतरीन बढ़त कायम की.

भारतीय खिलाड़ी ने इसके बाद लगातार अंक लेते हुए 21-10 से दूसरा गेम भी जीतकर खिताबी मुकाबले में प्रवेश कर लिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें