scorecardresearch
 

वर्ल्ड टी20 के लिए किसे मिलेगी टीम इंडिया में जगह?

6 मार्च से शुरू हो रहे टी20 वर्ल्ड कप के लिए टीम की बागडोर अभी महेंद्र सिंह धोनी के हाथों में ही रहेगी जबकि विराट कोहली उप कप्तानी करेंगे. इन दोनों के अलावा रोहित शर्मा, शिखर धवन, सुरेश रैना, युवराज सिंह, रविचंद्रन अश्विन सरीखे खिलाड़ियों का चयन तो तय ही लग रहा है. तो टीम में अन्य कौन कौन क्रिकेटर होंगे इस पर चर्चा जरूरी है.

X
6 मार्च से शुरू हो रहा है वर्ल्ड टी 20 टूर्नामेंट 6 मार्च से शुरू हो रहा है वर्ल्ड टी 20 टूर्नामेंट

टी20 वर्ल्ड कप के लिए शुक्रवार को टीम इंडिया का चयन होना है. टीम ऑस्ट्रेलिया में टी20 सीरीज 3-0 से जीत कर लौटने के बाद अपनी सरजमीं पर वर्तमान वर्ल्ड चैंपियन श्रीलंका के साथ तीन टी20 मैचों की सीरीज खेलने की तैयारी कर रही है. ऑस्ट्रेलिया में वनडे सीरीज के पहले चार मैचों में हार के बाद आखिरी वनडे में जीत और उसके बाद तीनों टी20 मुकाबले जीत कर टीम इंडिया रैंकिंग में नंबर वन भी बन चुकी है. आखिरी टी20 मुकाबले में रैना और युवराज की जोड़ी ने जिस तरह जीत दिलाई उससे 2011 वर्ल्ड कप क्वार्टर फाइनल की याद ताजा हो गई. उस मैच में भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इसी जोड़ी ने जीत दिलाई थी.

अब जबकि टी20 वर्ल्ड कप टूर्नामेंट 6 मार्च से शुरू हो रहा है. टीम में कौन कौन से चेहरे होंगे इस पर चर्चा जरूरी है.

इतना तो तय है कि इस टीम की बागडोर अभी महेंद्र सिंह धोनी के हाथों में रहेगी जबकि विराट कोहली उप कप्तानी करेंगे. इन दोनों के अलावा रोहित शर्मा, शिखर धवन, सुरेश रैना, युवराज सिंह, रविचंद्रन अश्विन सरीखे खिलाड़ियों का चयन तो तय ही है. तो सभी निगाहें निश्चित रूप से रहाणे पर लगी होंगी.

मनीष पांडे vs अजिंक्य रहाणे
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 सीरीज में क्लीन स्वीप ने भले ही चयनकर्ताओं की मुश्किलें कम कर दी हों लेकिन शुक्रवार को जब वो वर्ल्ड टी20 और एशिया कप के लिए भारतीय टीम के चयन के मद्देनजर सातवें नंबर के लिए बल्लेबाज चुन रहे होंगे तो उन्हें मनीष पांडे और अजिंक्य रहाणे में से एक को चुनने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ेगी.

ऑस्ट्रेलिया में शानदार प्रदर्शन के बाद ज्यादातर खिलाड़ियों ने खुद को चयन का दावेदार बना दिया है लेकिन केवल सातवें विशेषज्ञ बल्लेबाज के लिए ही चयनकर्ता पसोपेश में होंगे. उन्हें चुनना होगा कि क्या पांडे टी20 में रहाणे से ज्यादा बेहतर होंगे या नहीं.

भारत के नंबर एक बल्लेबाज विराट कोहली को श्रीलंका के खिलाफ आराम दिया गया है जिससे फार्म में चल रहे मनीष पांडे को इस आगामी घरेलू सीरीज में मौका दिया गया.

लेकिन जब कोहली बांग्लादेश में एशिया कप के लिए टीम से जुड़ेंगे तो मार्च-अप्रैल में होने वाली बड़े टूर्नामेंट के लिए श्रीलंका सीरीज के लिए चुने गये 15 खिलाड़ियों में से कम से एक पर गाज गिरेगी. वर्ल्ड टी20 की टीम की घोषणा कल होनी है जबकि पांडे नौ फरवरी से पुणे में शुरू हो रही श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में टीम इंडिया के सदस्य हैं. लिहाजा उनका खेल देखे बिना ही उन्हें टीम से बाहर करना अन्यायपूर्ण होगा.

रहाणे की क्लास पर किसी को कोई शक नहीं है लेकिन छोटे प्रारूपों में उनकी एक और दो रन लेने की क्षमता पर धोनी ने ही सवाल उठाए हैं. वह ऑस्ट्रेलिया में तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए अंतिम एकादश में शामिल नहीं थे जिससे संकेत मिलता है कि वह टीम प्रबंधन की योजनाओं का हिस्सा नहीं है.

युवराज का खेलना लगभग तय
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टी20 में युवराज के अंतिम ओवर में दिखाए गए कारनामे ने टीम में उनका स्थान सुनिश्चित कर दिया. युवराज बड़े कद के खिलाड़ी हैं और चयनकर्ता टीम का चुनते समय 2011 वर्ल्ड कप में उनके प्रदर्शन को नजरअंदाज नहीं कर सकेंगे.

टी20 सीरीज के बाद जैसा कि धोनी ने कहा था कि ‘कोर टीम’ लगभग तैयार है, तो 15 खिलाड़ियों में मामूली सा ही बदलाव होगा.

एक और खिलाड़ी जिन्हें ध्यान में रखा जा सकता है, वह इरफान पठान हैं जिन्होंने सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट में अच्छा खेल दिखाते हुए बड़ौदा को फाइनल तक पहुंचाया था. उन्हें बार बार चोटिल होने वाले आशीष नेहरा के कवर के तौर पर रखा जा सकता है. हालांकि चयनकर्ताओं ने उन्हें श्रीलंका सीरीज के लिए शामिल नहीं किया था इसलिए सवाल यही होगा कि उन्हें सीधा एशिया कप और वर्ल्ड टी20 टीम में ले जाया जा सकता है या नहीं क्योंकि हार्दिक पांड्या ने टीम में सीनियर खिलाड़ियों को प्रभावित किया है.

पवन नेगी तो रविंद्र जडेजा के लिए कवर हैं हीं क्योंकि पटेल की बल्लेबाजी पूरी तरह से संतोषजनक नहीं है. वहीं दिल्ली के नेगी आठवें या नौंवे स्थान पर लंबे छक्के जड़ सकते हैं. इसी तरह से हरभजन सिंह को अश्विन के कवर के तौर पर देखा जा रहा है और तमिलनाडु का यह गेंदबाज अगर असफल रहता है तभी उन्हें मौका मिलेगा. भुवनेश्वर कुमार चोट से उबरने के बाद वापस आ गए हैं और जब भी उन्हें मौका मिलता है उनके ‘चेंज अप्स’ प्रभावशाली हो सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें