scorecardresearch
 

'टीम इंडिया को पस्त कर सकते हैं पाक तेज गेंदबाज'

पाकिस्तान के एक दिवसीय कप्तान मिस्बाह उल हक और ट्वेंटी-20 कप्तान मोहम्मद हफीज का मानना है कि भारत में होने वाली आगामी श्रृंखला के लिये चुने गये तेज गेंदबाजों में मेजबान टीम के मजबूत बल्लेबाजी क्रम को ध्वस्त करने की क्षमता है.

पाकिस्तान के एक दिवसीय कप्तान मिस्बाह उल हक और ट्वेंटी-20 कप्तान मोहम्मद हफीज का मानना है कि भारत में होने वाली आगामी श्रृंखला के लिये चुने गये तेज गेंदबाजों में मेजबान टीम के मजबूत बल्लेबाजी क्रम को ध्वस्त करने की क्षमता है.

हफीज ने कहा, ‘मेरा मानना है कि टीम में चुने गये तेज गेंदबाजों में भारतीयों को उनकी सरजमीं पर पस्त करने की क्षमता है.’ उन्होंने कहा कि बायें हाथ के तेज गेंदबाज मोहम्मद इरफान को ट्वेंटी-20 श्रृंखला में बेहतरीन ढंग से इस्तेमाल किया जायेगा.

हफीज भारत में दो ट्वेंटी-20 मैचों में पाकिस्तान की अगुवाई करेंगे जबकि मिस्बाह होने वाले तीन एक दिवसीय मैचों में टीम की कमान संभालेंगे.

दोनों टीमों में कई तेज गेंदबाज उमर गुल, जुनैद खान, वहाब रियाज, मोहम्मद इरफान, अनवर अली, असद अली और सोहेल तनवीर शामिल हैं. इनमें से चार बायें हाथ के तेज गेंदबाज हैं.

हफीज ने कहा, ‘मुझे पूरा भरोसा है कि हमारी टीम भारत को हराकर दोनों श्रृंखलायें (टी-20 और वनडे) जीतेगी'.

मिस्बाह ने स्वीकार किया कि भारत के खिलाफ मैच हमेशा ही खिलाड़ियों और दोनों देशों के लिये दबाव भरे होते हैं. उन्होंने कहा, ‘पेशेवर खिलाड़ी के तौर पर हमें इस दबाव में रहने और इससे अनुकूलित होना चाहिए और मैं सभी खिलाड़ियों को टूर में सकारात्मक रूप से खेलने के लिये कहूंगा.’ अनुभवी आल राउंडर अब्दुल रज्जाक को दोनों टीमों से जबकि शाहिद अफरीदी को वनडे टीम से बाहर किये जाने के संबंध में पूछने पर मिस्बाह ने कहा कि दोनों ने पाकिस्तान क्रिकेट की अच्छी तरह सेवा की है.

उन्होंने कहा, ‘लेकिन लोगों को यह याद रखना होगा कि सीनियर खिलाड़ियों को बाहर करने का फैसला सिर्फ इसलिये कप्तान के कहने पर नहीं लिया गया बल्कि इस तरह के फैसले सर्वसम्मति से लिये जाते हैं.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें