scorecardresearch
 

पेस-बोपन्ना की जोड़ी जीती, भारत डेविस कप के प्लेऑफ में पहुंचा

रियो ओलंपिक से पहले लिएंडर पेस और रोहन बोपन्ना की जोड़ी डेविस कप के एशिया ओशियाना ग्रुप मुकाबले में एक साथ उतरी और दक्षिण कोरियाई प्रतिद्वंद्वी सियोंग चान होंग और होंग चुंग को जोड़ी को सीधे सेटों में हराकर भारत को वर्ल्ड ग्रुप के प्लेऑफ में जगह दिला दी.

पेस-बोपन्ना का पांचवां युगल मैच, 3-2 हो गया जीत-हार का आंकड़ा पेस-बोपन्ना का पांचवां युगल मैच, 3-2 हो गया जीत-हार का आंकड़ा

रियो ओलंपिक से पहले लिएंडर पेस और रोहन बोपन्ना की जोड़ी डेविस कप के एशिया ओशियाना ग्रुप मुकाबले में एक साथ उतरी और दक्षिण कोरियाई प्रतिद्वंद्वी सियोंग चान होंग और होंग चुंग को जोड़ी को सीधे सेटों में हराकर भारत को वर्ल्ड ग्रुप के प्लेऑफ में जगह दिला दी. मेजबान भारत इस जीत के साथ ही दक्षिण कोरिया पर 3-0 की बढ़त बना ली.

पेस-बोपन्ना की जोड़ी ने यह मुकाबला 6-3, 6-4, 6-4 से जीता. इससे पहले शुक्रवार को साकेत माइनेनी और रामकुमार रामानाथन ने अपने अपने एकल मुकाबले जीतकर भारत को 2-0 से बढ़त दिलाई थी. रियो ओलंपिक जा रहे पेस और बोपन्ना को इस मुकाबले में कोरियाई टीम से कोई चुनौती नहीं मिली.

कोरियाई टीम ने तीसरे सेट में पेस की सर्विस तोड़ी लेकिन कोई चुनौती नहीं दे सके. मुकाबला भले ही एकतरफा रहा हो लेकिन चंडीगढ़ में खेले गए इस मुकाबले को स्टेडियम में सैकड़ों की संख्या में लोगों ने देखा और मुकाबले के दौरान बारिश ने भी खलल नहीं डाली.

पेस-बोपन्ना की तीसरी जीत
डेविस कप के मैच में पांचवीं बार साथ खेल रहे पेस और बोपन्ना की तीसरी जीत थी. इससे पहले वे सर्बिया (2014) और कजाखस्तान (2007) के खिलाफ जीते और उजबेकिस्तान (2012) और चेक गणराज्य (2015) से हारे. अब दो उलट एकल मुकाबल महज औपचारिकता में खेले जाएंगे जिसमें माइनेनी का सामना सियोंग चान होंग से होगा जबकि रामकुमार योंग क्यु लिम से खेलेंगे.

सितंबर में होगा प्लेऑफ मुकाबला
सितंबर में वर्ल्ड ग्रुप प्लेऑफ में भारत का सामना चीन या उज्बेकिस्तान से होगा. बारिश नहीं होने के कारण कोर्ट बेहतर था और अच्छी उछाल मिल रही थी. बोपन्ना ने हालांकि पहले ही गेम में दो डबलफाल्ट किए लेकिन इसके बाद अपने शानदार सर्व से कोरियाई टीम को हाशिए पर रखा. उन्होंने भारत की ओर से 12 में से नौ ऐस लगाए.

पेस ने ड्रॉप शॉट्स से बनाया दबदबा
बढ़ती उम्र से पेस की रफ्तार भले ही कम हुई हो लेकिन तकनीक के मामले में उनका कोई सानी नहीं. उन्होंने शानदार ड्रॉप शॉट्स लगाए. भारतीय जोड़ी के दबदबे का आलम यह था कि उन्होंने अपनी सर्विस पर सिर्फ 17 अंक गंवाए. पहले सेट के आठवें गेम में होंग की सर्विस तोड़कर भारत ने बढ़त बनाई. पेस ने वाली पर विनर लगाकर दो मौके बनाए जबकि बोपन्ना ने एक और विनर लगाया.

पेस की वॉली को छू भी नहीं सके होंग
बोपन्ना की अगली सर्विस पर भारत ने सेट जीत लिया. दूसरे सेट के तीसरे गेम में होंग की सर्विस टूटी जब पेस ने अपनी बाईं ओर दौड़कर रिटर्न दिया और कोरियाई खिलाड़ी नीचे की ओर जाती वॉली को छू भी नहीं पाए. इसके बाद बोपन्ना की ही सर्विस पर भारत ने सेट जीता. तीसरे सेट के पहले गेम में चुंग की सर्विस टूटी. बोपन्ना ने चौथे गेम में ब्रेक प्वाइंट बनाया हालांकि छठे गेम में पेस की सर्विस टूटी. मेजबान टीम ने 10वें गेम में सेट जीत लिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें