scorecardresearch
 

हां मैंने भी की थी स्पॉट फिक्सिंगः मोहम्मद आसिफ

स्‍पॉट फिक्सिंग मामले में प्रतिबंध झेल रहे पाकिस्‍तान के तेज गेंदबाज मोहम्‍मद आसिफ ने अपने दूसरे प्रतिबंधित साथियों के नक्शेकदमों पर चलते हुए स्वीकार किया कि उन्होंने 2010 में स्पाट फिक्सिंग की थी.

X
मोहम्‍मद आसिफ मोहम्‍मद आसिफ

स्‍पॉट फिक्सिंग मामले में प्रतिबंध झेल रहे पाकिस्‍तान के तेज गेंदबाज मोहम्‍मद आसिफ ने अपने दूसरे प्रतिबंधित साथियों के नक्शेकदमों पर चलते हुए स्वीकार किया कि उन्होंने 2010 में स्पाट फिक्सिंग की थी. उन्होंने लाहौर में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के मुख्य संचालन अधिकारी सुभान अहमद के सामने यह कबूलनामा किया.

पीसीबी के शीर्ष सूत्र ने बताया कि आसिफ ने अहमद से मुलाकात के दौरान कबूल किया कि उन्‍होंने इंग्लैंड के खिलाफ 2010 में लार्ड्स में खेले गये चौथे टेस्ट मैच के दौरान स्पॉट फिक्सिंग की थी. सूत्र ने बताया, ‘आसिफ ने कहा कि वह अपने कृत्य से शर्मिंदा है और पिछले कई महीनों से उसकी आत्‍मा उसे धिक्कार रही थी, लेकिन वह सचाई बयां करने से डर रहा था.’

सूत्र के मुताबिक, ‘आसिफ ने आखिर में साहस जुटाया और अपना दोष स्वीकार कर लिया. क्योंकि वह अपना क्रिकेट कॅरियर फिर से शुरू करना चाहता है और अपनी बची-खुची प्रतिष्ठा को भी बचाये रखना चाहता है.’

आसिफ के अलावा सलमान बट और मोहम्मद आमिर को स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों में 2011 के शुरू में कम से कम पांच साल के प्रतिबंधित किया गया था. इन तीनों ने भ्रष्टाचार और धोखाधड़ी के लिए जेल की सजा भी भुगती. स्पॉट फिक्सिंग मामले के खुलासे के समय टीम के कप्तान सलमान और आमिर पहले ही स्वीकार कर चुके हैं कि उन्होंने गलत काम किया था. उन्होंने देशवासियों से माफी भी मांगी थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें