scorecardresearch
 

भ्रष्टाचार के आरोपों के बीच तमाशाई क्रिकेट आईपीएल का आगाज आज

स्‍पॉट फिक्सिंग प्रकरण के बाद क्रिकेटप्रेमियों का भरोसा फिर जीतने की कोशिश में जुटी विवादित इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में तड़क भड़क को हाशिए पर रखकर क्रिकेट को सर्वोपरि दर्जा देने के वादे के साथ सातवें सत्र का आज यहां आगाज होगा.

X
Sumbolic Image Sumbolic Image

स्‍पॉट फिक्सिंग प्रकरण के बाद क्रिकेटप्रेमियों का भरोसा फिर जीतने की कोशिश में जुटी विवादित इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में तड़क भड़क को हाशिए पर रखकर क्रिकेट को सर्वोपरि दर्जा देने के वादे के साथ सातवें सत्र का आज यहां आगाज होगा.

रोहित शर्मा की कप्तानी में गत चैंपियन मुंबई इंडियंस का सामना 2012 के विजेता कोलकाता नाइट राइडर्स से होगा, जिसकी अगुवाई गौतम गंभीर कर रहे हैं. भारत में आम चुनावों के कारण आईपीएल के पहले सत्र का आयोजन 16 से 30 अप्रैल तक संयुक्त अरब अमीरात में किया जा रहा है. टूर्नामेंट दो मई से भारत में होगा. क्रिकेटप्रेमियों को चुंबक की तरह खींचने वाली आईपीएल की रौनक स्‍पॉट फिक्सिंग प्रकरण के कारण कम नहीं हुई है लेकिन आयोजकों ने इस बार ग्लैमर को कम रखने का वादा किया है. इस साल कोई उद्घाटन समारोह नहीं होगा. इसकी जगह एक भव्य डिनर होगा, जिसमें बॉलीवुड स्टार और

केकेआर के मालिक शाहरुख खान समेत कई हस्तियां परफॉर्म करेंगी. इसके बाद से सारा फोकस मैदानी गतिविधियों पर रहेगा चूंकि आईपीएल सट्टेबाजी मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में चल रही है जिसमें लीग से जुड़े कई बड़े नाम शक के घेरे में हैं. बीसीसीआई अध्यक्ष और चेन्नई सुपर किंग्स के मालिक एन श्रीनिवासन को किनारा करने के लिए मजबूर होना पड़ा. टूर्नामेंट भले ही विदेश में हो रहा है, लेकिन यहां भारी तादाद में बसे भारतीयों में लीग को लेकर उत्साह इस कदर है कि कुछ ही दिन में सारे टिकट बिक गए.

युवराज पर खुद को साबित करने की जिम्‍मेदारी
अमीरात को मेजबान चुनने के फैसले पर भी सवाल उठाए गए थे क्योंकि यह मैच फिक्सरों की ऐशगाह रहा है. आईपीएल आयोजकों का कहना है कि यह फैसला लॉजिस्टिक आधार पर लिया गया है. टूर्नामेंट से पहले के विवाद एक बार मैच शुरू होने के बाद हाशिए पर चले जाएंगे और फोकस उन खिलाडि़यों के प्रदर्शन पर रहेगा जिन्हें करोड़ों रुपये खर्च करके खरीदा गया है. इनमें भारतीय हरफनमौला युवराज सिंह शामिल हैं, जो आईपीएल की नीलामी में सबसे महंगे बिके. उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने 14 करोड़ रुपपये में खरीदा था. टी20 विश्व में भारत के फ्लॉप शो के बाद आलोचकों के कोपभाजन बने युवराज पर खुद को साबित करने की महती जिम्मेदारी है.

विजेता टीम को मिलेंगे दस करोड़
दिल्ली डेयरडेविल्स द्वारा नौ करोड़ रुपये में खरीदे गए इंग्लैंड के केविन पीटरसन भी अपने संन्यास को लेकर विवाद के बाद नए सिरे से शुरुआत करना चाहेंगे. ईसीबी ने क्रिकेट से इतर मसलों के चलते उन्हें संन्यास लेने को मजबूर किया. विकेटकीपर दिनेश कार्तिक पर भी सभी की नजरें होंगी, जिन्हें दिल्ली ने 12 करोड़ रुपये में खरीदा. इसके अलावा घरेलू खिलाड़ी भी अच्छा प्रदर्शन करके चयनकर्ताओं का ध्यान खींचना चाहेंगे. एक जून को मुंबई में खत्म हो रहे टूर्नामेंट की विजेता टीम को दस करोड़ रुपये मिलेंगे जबकि कुल ईनामी राशि 30 करोड़ रुपये है.

नए के आने से केकेआर हुई संतुलित
कई नए खिलाडि़यों के आने से केकेआर भी संतुलित लग रही है. केकेआर ने सिर्फ दो खिलाडि़यों गंभीर और सुनील नारायण को बरकरार रखा है. केकेआर की बल्लेबाजी गंभीर, जाक कैलिस और खराब फार्म में चल रहे युसूफ पठान पर निर्भर होगी. मुंबई ने पिछले साल खिताब जीतने वाली टीम में ज्यादा बदलाव नहीं किए लेकिन ऑस्ट्रेलिया के माइकल हसी के आने से उसकी बल्लेबाजी मजबूत हुई है. हसी पहले चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा थे. दिल्ली के अलावा किंग्स इलेवन पंजाब भी काफी मजबूत लग रही है जिसके पास अब वीरेंद्र सहवाग, चेतेश्वर पुजारा और ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिशेल जानसन जैसे खिलाड़ी हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें