scorecardresearch
 

'साक्षी को आने के बाद खिलाऊंगी कढ़ी पकोड़ा'

साक्षी की मां का कहना है कि उनकी बेटी को कढ़-पकोड़ा बहुत पसंद है. घर लौटने के बाद सबसे पहले वो अपने हाथों से कढ़ी बनाकर साक्षी को खिलाएंगी. क्योंकि ओलंपिक से पहले वो अपनी प्रैक्टिस में व्यस्त थी और खाने-पीने को लेकर तमाम बंदिशें थीं.

साक्षी मलिक साक्षी मलिक

रियो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने के बाद अब साक्षी का इंतजार पूरा देश कर रहा है. लेकिन मां सबसे बेसब्री से बेटी की बाट जोह रही है. साक्षी की मां का कहना है कि उनकी बेटी को कढ़-पकोड़ा बहुत पसंद है. घर लौटने के बाद सबसे पहले वो अपने हाथों से कढ़ी बनाकर साक्षी को खिलाएंगी. क्योंकि ओलंपिक से पहले वो अपनी प्रैक्टिस में व्यस्त थी और खाने-पीने को लेकर तमाम बंदिशें थीं.

दिल्ली में किया गया सम्मानित
साक्षी के माता-पिता और उनके कोच को मंगलवार दिल्ली विधानसभा में सम्मानित किया गया. विधानसभा स्पीकर रामनिवास गोयल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने साक्षी के माता पिता को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया. इसके बाद हाउस के भीतर भी साक्षी की उपलब्धि पर चर्चा की गई. तमाम विधायकों ने साक्षी की कामयाबी और उसके माता पिता के योगदान पर बात की.

'बेटी पर है गर्व'
'आज तक' से खास बातचीत में साक्षी की माँ ने कहा कि विधानसभा में उनके और बेटी के बारे में चर्चा सुनकर जिस गर्व की अनुभूति उन्हें हुई वो बयां नहीं की जा सकती.साक्षी के पिता ने कहा कि जिस सरकार की वो नौकरी करते थे, उसी से सम्मान और प्रमोशन मिलना वाकई गौरव की बात है. ये सब बेटी की वजह से हुआ है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें