scorecardresearch
 

प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए आगे आए बाईचुंग भूटिया, रहने के लिए देंगे छत

भारतीय फुटबॉल के पूर्व कप्तान बाईचुंग भूटिया ने प्रवासी मजदूरों को छत देने ऐलान किया है. बाईचुंग भूटिया ने सोमवार को सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर कर इस बात की जानकारी दी है.

Bhaichung Bhutia Bhaichung Bhutia

कोरोना वायरस के संकट को देखते हुए भारत में 21 दिनों के लॉकडाउन के कारण हजारों मजदूर और गरीबों का पलायन देखने को मिला. लॉकडाउन के बीच दिहाड़ी मजदूरों का सैलाब सड़कों पर उतर आया.

इसी बीच भारतीय फुटबॉल के पूर्व कप्तान बाईचुंग भूटिया ने प्रवासी मजदूरों को छत देने ऐलान किया है. बाईचुंग भूटिया ने सोमवार को सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर कर इस बात की जानकारी दी है.

ये भी पढ़ें: घर में बोर हुए डेविड वॉर्नर, फैंस से मांगी मदद तो जवाब मिला- रामायण देखो

सिक्किम में अपनी बिल्डिंग देंगे बाईचुंग भूटिया

बाईचुंग भूटिया ने ट्वीट करते हुए कहा, 'मैं उन प्रवासी श्रमिकों के लिए परेशान हूं जो कोरोन वायरस और लॉकडाउन से बचने के लिए अपने-अपने घरों तक पहुंचने की उम्मीद कर रहे हैं.'

भूटिया ने कहा, 'मैं ऐसे कर्मचारियों को आश्रय देने के लिए सिक्किम स्थित लुम्सेय और तडोंग में अपनी बिल्डिंग देने की पेशकश कर रहा हूं और उन्हें सरकार के दिशानिर्देशों का पालन करने का सुझाव देता हूं. मैं और यूनिटेड सिक्किम फुटबॉल क्लब (USFC) उनकी मदद करेंगे.'

कोरोना का प्रकोप जारी

बता दें कि यातायात के साधन न होने के बावजूद गरीब-मजदूर वर्ग के लोग पैदल ही अपने गांव की ओर चल निकले हैं. भारत में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. देश में अब तक कोरोना वायरस के 1190 से ज्यादा संक्रमित मामले सामने आ चुके हैं. वहीं दुनिया भर में कोरोना वायरस के कारण 34 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें