scorecardresearch
 

धोनी, रैना, युवी बिना 10 साल में पहली बार खेलेगी टीम इंडिया

भारतीय क्रिकेट टीम एशिया कप में 26 फरवरी को फतुल्लाह में जब बांग्लादेश के खिलाफ अपना पहला मैच खेलने के लिये उतरेगी तो यह पिछले दस सालों में पहला मौका होगा जब महेंद्र सिंह धोनी, युवराज सिंह और सुरेश रैना में से कोई भी प्लेइंग इलेवेन में शामिल नहीं होगा.

X
धोनी, युवी और रैना (फाइल फोटो)
धोनी, युवी और रैना (फाइल फोटो)

भारतीय क्रिकेट टीम एशिया कप में 26 फरवरी को फतुल्लाह में जब बांग्लादेश के खिलाफ अपना पहला मैच खेलने के लिये उतरेगी तो यह पिछले दस सालों में पहला मौका होगा जब महेंद्र सिंह धोनी, युवराज सिंह और सुरेश रैना में से कोई भी प्लेइंग इलेवेन में शामिल नहीं होगा.

युवराज और रैना को एशिया कप की टीम में नहीं चुना गया था जबकि कप्तान धोनी न्यूजीलैंड के खिलाफ वेलिंगटन में दूसरे टेस्ट मैच के दौरान चोटिल हो गये थे और इस वजह से वह एशिया कप के लिये बांग्लादेश दौरे पर नहीं गए. धोनी की अनुपस्थिति में विराट कोहली टीम की अगुवाई कर रहे हैं.

इन तीनों में युवराज ने सबसे पहले 3 अक्टूबर 2003 को एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था. इसके बाद धोनी को 23 दिसंबर 2004 को अपना पहला वनडे मैच खेलने का मौका मिला था. धोनी के डेब्यू से लेकर अब तक भारत ने 274 वनडे मैच खेले हैं और इन सभी में युवराज, धोनी और रैना में से कोई न कोई खिलाड़ी टीम में शामिल था.

रैना ने अपना पहला वनडे 30 जुलाई 2005 को खेला था. इन तीनों में से किसी एक खिलाड़ी के टीम में रहते हुए भारत ने जो 274 मैच खेले उनमें से उसे 155 मैचों में जीत मिली. इस बीच भारत ने 102 मैचों में हार का स्वाद भी चखा जबकि चार मैच टाई रहे और बाकी 13 मैचों का नतीजा नहीं निकला.

इस बीच धोनी ने सर्वाधिक 243, रैना ने 189 और युवराज ने 185 मैच खेले. युवराज ने वैसे अब तक 293 वनडे खेले हैं. भारत ने ऐसे 269 मैच खेले हैं जिनमें धोनी या रैना में से कम से कम एक खिलाड़ी प्लेइंग इलेवेन का हिस्सा था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें