scorecardresearch
 

वेस्टइंडीज में शतक के साथ ही कप्तान कोहली ने रिकॉर्ड अपने नाम किया

अपने जबरदस्त फॉर्म को बरकरार रखते हुए विराट कोहली ने साल 2016 के अपने पहले ही टेस्ट में शतक जमा दिया है. वेस्टइंडीज की सरजमीं पर यह उनका पहला टेस्ट शतक है. विराट के टेस्ट करियर की 12वीं सेंचुरी बतौर कप्तान उनका पांचवां शतक है और पांचों विदेशी धरती पर बने हैं. चलिए हम आपको बताते हैं वो 10 बातें जो एंटीगुआ में कप्तान विराट कोहली के लगाए इस शतक को खास बनाते हैं.

विराट कोहली ने 2016 वर्ल्ड टी20 में 136.50 की औसत से 273 रन बनाए विराट कोहली ने 2016 वर्ल्ड टी20 में 136.50 की औसत से 273 रन बनाए

अपने जबरदस्त फॉर्म को बरकरार रखते हुए विराट कोहली ने साल 2016 के अपने पहले ही टेस्ट में शतक जमा दिया है. वेस्टइंडीज की सरजमीं पर यह उनका पहला टेस्ट शतक है. विराट के टेस्ट करियर की 12वीं सेंचुरी बतौर कप्तान उनका पांचवां शतक है और पांचों विदेशी धरती पर बने हैं. चलिए हम आपको बताते हैं वो 10 बातें जो एंटीगुआ में कप्तान विराट कोहली के लगाए इस शतक को खास बनाते हैं.

1. बतौर कप्तान वेस्टइंडीज की सरजमीं पर अपने पहले ही टेस्ट की पहली पारी में शतक लगाने वाले विराट कोहली पहले भारतीय कप्तान बन गए हैं.

2. इस शतक के साथ ही वो विदेशी सरजमीं पर सबसे ज्यादा शतक बनाने वाले कप्तान अजहरुद्दीन की बराबरी पर आ खड़े हुए हैं. कप्तान कोहली का यह विदेशी सरजमीं पर पांचवां टेस्ट शतक है. मोहम्मद अजहरुद्दीन ने भी बतौर कप्तान विदेशों में पांच ही शतक जड़े. इनमें से न्यूजीलैंड और इंग्लैंड में दो दो जबकि ऑस्ट्रेलिया में एक शतक शामिल है.

3. कोहली ने बतौर कप्तान अपने पांचों शतक विदेशी धरती पर ही बनाए हैं. कप्तान कोहली ने ऑस्ट्रेलिया में तीन तो श्रीलंका और वेस्टइंडीज में एक एक शतक जड़े हैं.

4. यह वेस्टइंडीज के खिलाफ उनकी पहली शतकीय पारी है. इससे पहले वेस्टइंडीज में उनका व्यक्तिगत उच्चतम स्कोर 30 रन था. जबकि भारत में उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ 63 रनों की सबसे बड़ी पारी खेली थी.

5. विराट कोहली वेस्टइंडीज की सरजमीं पर शतक बनाने वाले तीसरे कप्तान बने. इससे पहले राहुल द्रविड़ ने जून 2016 में 146 जबकि कपिल देव ने 1983 में नाबाद 100 रन बनाए थे. इसके अलावा दो कप्तानों वेस्टइंडीज में नर्वस नाइंटीज (कपिल देव 1982-83 में 98 रन और सचिन तेंदुलकर 1996-97 में 92 रन) का भी शिकार हो चुके हैं.

6. विराट कोहली ने अपनी शतकीय पारी के दौरान टेस्ट क्रिकेट में 3000 रन पूरे किए. भारत के 19वें बल्लेबाज जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में तीन हजार या इससे अधिक रन बनाए हैं. विराट ने तीन हजार रन बनाने के लिए 73 पारियां खेली हैं. इतना ही नहीं, प्रत्येक हजार रन बनाने के दौरान उनकी पारियों की संख्या घटती जा रही है. विराट ने पहले हजार रन बनाने के लिए जहां 27 पारियां खेली वहीं दूसरे हजार रन के लिए उन्होंने 26 और तीसरे में महज 20 पारियां खेली.

7. इसी दौरान विराट ने बतौर कप्तान केवल 18 पारियों में अपने एक हजार रन पूरे किए. कप्तान कोहली अब तक पांच सेंचुरी और दो हाफ सेंचुरी ठोक चुके हैं. टेस्ट में 46.13 की औसत से खेल रहे कोहली का बतौर कप्तान 61.11 रनों का औसत है. इस मामले में उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी की बराबरी की है. हालांकि यह रिकॉर्ड अब भी सुनील गावस्कर के नाम पर ही है जिन्होंने यह कारनामा महज 14 पारियों में किया.

8. कोहली ने कप्तान के रूप में विदेशी सरजमीं पर अब तक 12 पारियों में 76.27 की औसत से 839 रन बनाए हैं. विदेशी सरजमीं पर कप्तान के रूप में उनसे बेहतर औसत सिर्फ सर डान ब्रैडमैन (15 पारियों में 85.63 की औसत से 942 रन) का रहा है.

9. कैरेबियाई धरती पर अपनी पहली ही पारी में 50 या इससे अधिक रन बनाने वाले भी विराट पहले भारतीय कप्तान हैं.

10. इस मैदान पर विराट की यह पारी यह पारी किसी भी कप्तान की सर्वश्रेष्ठ पारी भी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें