scorecardresearch
 

नरसिंह की जगह कौन जाएगा रियो? प्रवीण के नाम पर फेडरेशन और मंत्रालय में 'कुश्ती'

मोदी सरकार में खेल और युवा मामलों के मंत्री विजय गोयल ने साफ-साफ कह दिया है कि नरसिंह यादव की जगह प्रवीण राणा को ओलंपिक में टिकट नहीं मिल सकता है. इस पर भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने कहा की मंत्रीजी के पास इस विषय पर शायद जानकारी नहीं होगी.

पहलवान नरसिंह यादव पहलवान नरसिंह यादव

नरसिंह यादव की डोपिंग टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद रियो ओलंपिक में कुश्ती के 74 किलोग्राम वर्ग में भारत का प्रतिनिधित्व कौन करेगा, इसको लेकर कई सवाल और विवाद नजर आ रहे हैं. फिलहाल नरसिंह यादव की जगह प्रवीण राणा का नाम भेज दिया गया है.

नरसिंह यादव की डोपिंग रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने 19 जुलाई को यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग फेडरेशन को पत्र लिखकर नरसिंह यादव की डोपिंग मामले की जानकारी देते हुए लिखा कि नरसिंह के खिलाफ षड्यंत्र हुआ है. अब नाडा की कमेटी नरसिंह यादव के आरोपों की जांच कर रही है.

25 जुलाई को चिट्ठी लिखकर मांगी जानकारी
कमेटी की रिपोर्ट आने तक नरसिंह यादव को ही 74 किलोग्राम वर्ग में भारत के प्रतिनिधि माना जाए, लेकिन 25 जुलाई को यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग फेडरेशन ने भारतीय कुश्ती संघ को पत्र लिखकर भारत की तरफ से 74 किलोग्राम वर्ग के फाइनल प्रतिनिधि का नाम की जानकारी मांगी थी.

बृजभूषण सिंह ने नरसिंह यादव के स्थान पर प्रवीण राणा का नाम भेजा है, सिंह की माने तो उन्होंने पत्र में ये भी लिखा है कि अगर नाडा की कमेटी नरसिंह यादव को क्लीन चिट देती है, तो नरसिंह यादव ही 74 किलोग्राम वर्ग में भारत प्रतिनिधित्व करेंगे.

'प्रवीण को नहीं मिल सकता टिकट'
वहीं मोदी सरकार में खेल और युवा मामलों के मंत्री विजय गोयल ने साफ-साफ कह दिया कि नरसिंह यादव की जगह प्रवीण राणा को ओलंपिक में टिकट नहीं मिल सकता है. इस पर भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने कहा की मंत्रीजी के पास इस विषय पर शायद जानकारी नहीं होगी. फेडरेशन और पहलवानों के बीच तकरार के कई मामले सामने आ चुके हैं, लेकिन पहली बार फेडरेशन और मंत्रालय के बीच विवाद नजर आ रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें