scorecardresearch
 

15 सालों में BCCI ने कभी नहीं दिया बांग्लादेश को न्योता

बांग्लादेश ने टेस्ट क्रिकेट में 2000 में कदम रखा लेकिन 15 साल हो गए अभी तक उसे बीसीसीआई की ओर से भारत में खेलने का न्योता नहीं मिला है. बांग्लादेश के सीमित ओवरों के वर्तमान कप्तान मशरफे मुर्तजा ने कहा कि वह और उनके साथी खिलाड़ी भारत में टेस्ट मैच खेलना चाहते हैं.

मशरफे मुर्तजा मशरफे मुर्तजा

बांग्लादेश ने टेस्ट क्रिकेट में 2000 में कदम रखा लेकिन 15 साल हो गए अभी तक उसे बीसीसीआई की ओर से भारत में खेलने का न्योता नहीं मिला है. बांग्लादेश के सीमित ओवरों के वर्तमान कप्तान मशरफे मुर्तजा ने कहा कि वह और उनके साथी खिलाड़ी भारत में टेस्ट मैच खेलना चाहते हैं.

मशरफे ने भारत के बांग्लादेश दौरे से कहा, 'निश्चित तौर पर हमारे खिलाड़ी भारत में खेलना चाहते हैं. हम इसके लिए तैयार हैं, उम्मीद है कि हमें वहां जाकर खेलने का मौका मिलेगा.' आपको बता दें कि बांग्लादेश ने भारतीय सरजमीं पर केवल तीन वनडे मैच खेले हैं. ये मैच भी उसने एशिया कप (1990-91) और कोकाकोला ट्राई सीरीज (1998) में खेले थे.

भारत और बांग्लादेश के बीच वर्ल्ड कप 2015 का क्वार्टर फाइनल मैच भी विवादों से परे नहीं रहा. रोहित शर्मा को फुलटॉस पर नॉटआउट देने के कारण विवाद पैदा हो गया था. लेकिन मुर्तजा ने कहा कि वह इस घटना को भूल चुके हैं. उन्होंने कहा, 'मैं इस पर बात नहीं करना चाहता हूं और आगे बढ़ना चाहता हूं.'

भारतीय टीम के बारे में उन्होंने कहा, 'भारत के पास मजबूत बल्लेबाजी क्रम है. विराट कोहली, रोहित, शिखर धवन और अंजिक्य रहाणे अच्छी फॉर्म में है. महेंद्र सिंह धोनी पिछले छह से आठ सालों से अच्छा कर रहे हैं. इसलिए उनमें किसी एक का जिक्र करना मुश्किल है. उसके गेंदबाज खासकर तेज गेंदबाज वर्ल्ड कप से अच्छी फॉर्म में हैं.'

इनपुटः भाषा

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें