scorecardresearch
 

Virat Kohli Test Captaincy: 'टीम के प्रति बेईमान नहीं हो सकता', पढ़ें कोहली ने कप्तानी छोड़ते हुए क्या कहा

भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार प्लेयर विराट कोहली ने टी20 के बाद अब टेस्ट फॉर्मेट की कप्तानी से भी इस्तीफा दे दिया है. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने उनसे वनडे की कप्तानी छीन ली थी...

Virat Kohli (Twitter) Virat Kohli (Twitter)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोहली ने टी20 के बाद टेस्ट की कप्तानी छोड़ी
  • वनडे की कप्तानी से पहले ही हटा दिया था

Virat Kohli Test Captaincy: भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार प्लेयर विराट कोहली ने टी20 के बाद अब टेस्ट फॉर्मेट की कप्तानी से भी इस्तीफा दे दिया है. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने उनसे वनडे की कप्तानी छीन ली थी. इस तरह कोहली अब किसी भी फॉर्मेट के कप्तान नहीं रहे. कोहली ने टेस्ट की कप्तानी छोड़ने से पहले ट्विटर एक बड़ा लेख लिखा है.

क्लिक करें: Virat Kohli ने छोड़ी टेस्ट टीम की कप्तानी, अफ्रीका में हार के बाद बड़ा फैसला

मेरे आत्मविश्सास में कोई कमी नहीं आई

विराट कोहली ने ट्विटर पोस्ट में लिखा- भारतीय टीम को सही दिशा में ले जाने के लिए 7 सालों तक कठिन मेहनत और अथक प्रयास किए हैं. मैंने अपना काम पूरी ईमानदारी से किया और इसे कभी नहीं छोड़ा. एक मंच पर आकर हर किसी को रुकना पड़ता है. अब मेरे लिए भी बतौर टेस्ट कप्तान यह समय आ गया है. इस यात्रा के दौरान कई उतार-चढ़ाव आए, लेकिन मेरे प्रयासों और आत्मविश्वास में कभी कोई कमी नहीं आई. मैं हमेशा ही अपना 120 प्रतिशत देने में विश्वास रखता हूं. मैं जो कुछ भी करता हूं और मुझे लगता है कि यह मैं नहीं कर सकता, तो मैं जानता हूं कि यह करना सही नहीं होगा. 

सबसे बड़ा धन्यवाद धोनी को दिया

कोहली ने कहा- मेरे दिल में पूरी तरह से क्लियरिटी है और मैं अपनी टीम के प्रति बेईमान नहीं हो सकता. मैं BCCI को धन्यवाद देना चाहता हूं कि उन्होंने इतने लंबे समय तक मुझे टीम का नेतृत्व करने का मौका दिया. साथ ही सबसे जरूरी टीम के उन सभी साथियों को भी धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने पहले दिन से मेरा साथ दिया और कभी भी किसी भी हालात में साथ नहीं छोड़ा. आप सभी ने इस सफर को यादगार और खूबसूरत बना दिया है.

उन्होंने कहा- रवि भाई और सपोर्ट ग्रुप इस वाहन (सफर) के इंजन थे, जिनकी मदद से टेस्ट क्रिकेट में हम लगातार ऊपर की और बढ़ते गए. आखिर में महेंद्र सिंह धोनी को सबसे बड़ा धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने कप्तान के रूप में मुझ पर भरोसा जताया और मुझे एक बेहतर व्यक्तित्व के रूप में निखारा. जिससे भारतीय क्रिकेट को आगे ले जा सका.

कोहली हैं भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान

कोहली भारत के सबसे सफल टेस्ट कप्तान हैं. उनकी कप्तानी में भारतीय टीम ने 68 में से सबसे ज्यादा 40 टेस्ट जीते हैं. उनके बाद धोनी का नाम है, जिनकी कप्तानी में टीम इंडिया ने 60 में से 27 टेस्ट जीते थे. हाल ही में साउथ अफ्रीका दौरे पर विराट कोहली की कप्तानी में ही भारतीय टीम को तीन टेस्ट की सीरीज में 1-2 से हार झेलनी पड़ी. हालांकि, सीरीज का दूसरा टेस्ट चोट के चलते कोहली नहीं खेल पाए थे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×