scorecardresearch
 

विजय और पुजारा की शानदार बल्लेबाजी, 'विराट' बल्ला हुआ फेल

कानपुर के ग्रीन पार्क के मैदान पर खेले जा रहे 500वें ऐतिहासिक टेस्ट मुकाबले में टीम इंडिया का कोई भी बल्लेबाज शतक नहीं जड़ सका. सलामी बल्लेबाज मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा को छोड़ दें तो कई भी भारतीय बल्लेबाज पूरी तरह उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सका. हालांकि विजय और पुजारा भी शतक जड़ने चूके.

मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा के बीच हुई 133 रन की साझेदारी मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा के बीच हुई 133 रन की साझेदारी

कानपुर के ग्रीन पार्क के मैदान पर खेले जा रहे 500वें ऐतिहासिक टेस्ट मुकाबले में टीम इंडिया का कोई भी बल्लेबाज शतक नहीं जड़ सका. सलामी बल्लेबाज मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा को छोड़ दें तो कई भी भारतीय बल्लेबाज पूरी तरह उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सका. हालांकि विजय और पुजारा भी शतक जड़ने चूके.

विजय और पुजारा की शानदार बल्लेबाजी
मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा ने 500वें ऐतिहासिक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शानदार बल्लेबाजी की. लेकिन दोनों अपनी इस बेहतरीन पारियों को शतक में नहीं बदल सके. विजय ने पहले टेस्ट मैच की दो पारियों में 70.50 की औसत के साथ 141 रन बनाए. उन्होंने दोनों पारी में अर्धशतक जड़ा. इसके अलावा चेतेश्वर पुजारा ने भी दो पारियों में 53.63 की औसत के साथ 140 रन बनाए और उन्होंने भी दोनों पारियों में अर्धशतक जड़ा. इन बल्लेबाजों की शानदार बल्लेबाजी की बदौलत टीम इंडिया इस टेस्ट मैच में शानदार प्रदर्शन करने में कामयाब रही.

फिर फेल हुआ विराट का बल्ला
500वें ऐतिहासिक टेस्ट मैच में टीम इंडिया के कप्तान का विराट कोहली का बल्ला दोनों पारियों में पूरी तरह से फेल रहा. कोहली ने पहली पारी में नौ रन बनाए थे. जबकि दूसरी पारी में उन्होंने 18 रन की पारी खेली. कोहली ने दोनों पारियों में 13.50 की औसत से 27 रन बनाए. जिसमें उनका बेस्ट स्कोर 18 रन रहा. कोहली के इस फॉर्म ने भारतीय खेल प्रेमियों को थोड़ा निराश किया है.

रहाणे ने किया निराश
टीम इंडिया के स्टार खिलाड़ी से खेल प्रेमियों को काफी उम्मीदें रहती हैं. लेकिन रहाणे ने भी इस ऐतिहासिक टेस्ट मैच में फैन्स को निराश किया है. रहाणे ने पहली पारी में 18 दूसरी पारी में 40 रन बनाकर आउट हुए. उन्हें दोनों पारियों में स्पिन गेंदबाजों का शिकार होना पड़ा. अब इस टेस्ट मैच की दो पारियों में वो 29.00 की औसत से 58 रन बनाए. दूसरी पारी में वो अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे. लेकिन एक छोटी सी उनकी शानदार पारी पर भारी पड़ी.

रोहित और जडेजा की जबरदस्त बल्लेबाजी
दूसरी पारी में रोहित शर्मा ने शानदार बल्लेबाजी की और वो 68 रन बनाकर नॉट आउट रहे. इसके साथ ही वो टेस्ट क्रिकेट में 1000 रन पार करने वाले बल्लेबाज भी बने. रोहित और रवींद्र जडेजा के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 100 रन की साझेदारी की. जडेजा 50 रन बनाकर नॉटआउट रहे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें