scorecardresearch
 

कोहली बोले- शतक के लिए नहीं टीम को जीत दिलाने के लिए खेलता हूं

कोहली ने कहा, जब आप खेलते हो तो आप अपनी टीम को जीत दिलाने के लिए अंत तक रहना चाहते हो. उस समय हमारा ध्यान रिकॉर्ड्स पर नहीं होता.

विराट कोहली विराट कोहली

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चेन्नई वनडे से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में बड़ा बयान दिया है. विराट कोहली ने कहा है कि वे अपने शतक के लिए ही क्रिकेट नहीं खेलते हैं, बल्कि टीम को जीत दिलाने के लिए खेलते हैं.

विराट कोहली ने कहा कि मैं खेलते समय अपने शतक के बारे में नहीं सोचता हूं, इसीलिए शायद खेलने के दौरान ज्यादातर बार मैं तीन अंकों के आंकड़े को पार कर जाता हूं. इसलिए मैं खुद को दबाव में नहीं डालता. मेरे लिए, टीम के लिए मैच जीतना सबसे महत्वपूर्ण है.

आपको बता दें कि 28 साल के विराट कोहली के नाम इंटरनेशनल क्रिकेट में 47 शतक है. विराट कोहली टेस्ट क्रिकेट में 17 शतक लगा चुके हैं, जबकि हाल ही में श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज में लगातार दो शतक जड़ कर कोहली ने वनडे क्रिकेट में अपने 30 शतक पूरे कर लिए हैं और ऑस्ट्रेलिया के पूर्व वर्ल्ड चैंपियन कप्तान रिकी पोंटिंग की बराबरी कर ली है.

ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि विराट कोहली ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में रिकी पोंटिंग के शतकों के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ देंगे, लेकिन वो व्यक्तिगत रिकार्ड्स से ज्यादा टीम को जीत दिलाने में विश्वास रखते हैं.

कोहली ने कहा, मैं 98 पर नॉट आउट हूं या 99 पर, मुझे कोई दिक्कत नहीं है, क्योंकि मेरा सारा ध्यान टीम को जीत दिलाने पर होता है. इस दौरान बोर्ड पर लगे ज्यादा रनों को हासिल करना हो या पहले बल्लेबाजी करते हुए बड़ा स्कोर खड़ा करना हो मैं शतक लगा देता हूं. कोहली ने कहा, जब आप खेलते हो तो आप अपनी टीम को जीत दिलाने के लिए अंत तक रहना चाहते हो. उस समय हमारा ध्यान रिकॉर्ड्स पर नहीं होता.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें