scorecardresearch
 

कोटला टेस्ट में श्रीलंकाई टीम की 'हवा खराब', मास्क पहनकर उतरे क्रिकेटर

दिल्ली टेस्ट के दूसरे दिन श्रीलंकाई खिलाड़ी मास्क लगाकर फील्डिंग कर रहे थे .

X
श्रीलंकाई खिलाड़ी श्रीलंकाई खिलाड़ी

टीम इंडिया और श्रीलंका के बीच दिल्ली के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में खेले जा रहे आखिरी टेस्ट मैच में एक ऐसा नजारा देखने को मिला जिसने दर्शकों का ध्यान अपनी ओर खींचा. दरअसल, दिल्ली टेस्ट के दूसरे दिन श्रीलंकाई खिलाड़ी मास्क लगाकर फील्डिंग कर रहे थे. बता दें कि इन दिनों दिल्ली में प्रदूषण का स्तर काफी बढ़ गया है और हवा में स्मॉग छाया हुआ है. ऐसे में इस मैच में खेल रहे खिलाड़ियों को सांस लेने में दिक्कत हो रही थी.

गौरतलब है कि पिछले कुछ समय से दिल्ली को प्रदूषण की समस्या का सामना करना पड़ा है. नवंबर में प्रदूषण का स्तर बढ़ने पर दिल्ली सरकार ने स्कूलों को बंद करने की घोषणा भी की थी. पिछले साल भी इस तरह की समस्या का सामना करना पड़ा था.दिल्ली की तुलना गैस चैंबर से करते हुए पांचवीं तक के स्कूलों को लगभग सप्ताह भर के लिए बंद भी कर दिया गया था.

श्रीलंका की टीम भले ही मैदान पर मास्क लगाकर उतरी हो, लेकिन इस दौरान मैदान पर खड़े अंपायर और भारतीय खिलाड़ियों ने मास्क नहीं लगाया हुआ था. लगभग 17 मिनट तक खेल रोकना पड़ा. मैच रैफरी डेविड बून ने हालांकि डाक्टर से परामर्श लेने के बाद मैच दोबारा शुरू कराने का फैसला किया.

श्रीलंका टीम विराट कोहली की बैटिंग के आगे बेबस नजर आ रही थी. लंच के बाद दूसरे सेशन में मेहमान टीम जब मैदान पर लौटी तो वह कोहली की बैटिंग से ज्यादा दिल्ली के पलूशन से घबराई नजर आई.

इसी के डर से श्रीलंका खिलाड़ियों ने अपनी सेहत का ख्याल रखते हुए चेहरे पर मास्क लगाने का फैसला किया. श्रीलंकाई टीम के सिर्फ खिलाड़ी ही नहीं बल्कि श्री लंकाई टीम का मैदान के बाहर बैठा स्टाफ भी मास्क लगाए हुए दिखा. इस बीच श्रीलंका के कैप्टन दिनेश चंडीमल ने टीम इंडिया के कैप्टन विराट कोहली और मैदान पर खड़े अंपायर से लंबी बातचीत की.

मैच के दौरान कमेंट्री कर रहे आशीष नेहरा, आकाश चोपड़ा और वीवीएस लक्ष्मण ने इसकी आलोचना की. आकाश चोपड़ा ने कहा कि अगर दिल्ली में आपको खेलना है तो मजबूत फेफड़े लेकर आना होगा.

कोहली ने रचा इतिहास

कोहली ने दूसरे दिन 156 रन से आगे खेलना शुरू किया और कुछ ही देर में अपनी छठी टेस्ट डबल सेंचुरी भी पूरी कर ली. इसी के साथ ही उन्होंने कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा दोहरे शतक लगाने के मामले में वेस्टइंडीज के दिग्गज ब्रायन लारा के वर्ल्ड रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया है.

इससे पहले नागपुर में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में विराट कोहली ने 5वां दोहरा शतक लगाया था और बतौर कप्तान सबसे ज्यादा दोहरे शतक लगाने के मामले में ब्रायन लारा के साथ संयुक्त रूप से पहले नंबर पर पहुंच गए थे. लेकिन दिल्ली में उन्होंने लारा के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया. लारा के नाम बतौर कप्तान टेस्ट में 5 दोहरे शतक हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें