scorecardresearch
 

भारत पाकिस्तान के बीच क्रिकेट सीरीज चाहते हैं सौरव गांगुली

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज की वकालत की है. उन्होंने कहा है कि दोनों देशों के लोग चाहते हैं कि ये आपस में खेलें.

X
सौरव गांगुली
सौरव गांगुली

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज की वकालत की है. उन्होंने कहा है कि दोनों देशों के लोग चाहते हैं कि ये आपस में खेलें. उन्होंने कहा, ‘सभी चाहते हैं कि भारत-पाकिस्तान सीरीज बहाल हो क्योंकि इन दोनों देशों के बीच मैच रोमांचक होते हैं. हम चाहते हैं कि सीरीज हो लेकिन सब कुछ बोर्ड के हाथों में नहीं है. इस संबंध में सरकार को फैसला करना होता है.’

सौरव गांगुली ने टीम इंडिया के वर्तमान वनडे और टी20 कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की तारीफ करते हुए कहा कि अब भी उनमें काफी क्रिकेट बची हुई है. गांगुली ने कहा, ‘धोनी बेहतरीन क्रिकेटर है और उन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मानदंड तय किए हैं. उनमें अब भी कुछ साल तक भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए क्रिकेट बची हुई है.’

गांगुली से पूछा गया कि अगले वर्ल्ड कप में भारत का कप्तान कौन होगा, उन्होंने कहा, ‘वर्ल्ड कप 2019 में होना है और हमारे पास वनडे कप्तान पर फैसला करने के लिए काफी समय है.’ उन्होंने कहा, ‘किसी को भी धोनी के स्तर तक पहुंचने के लिए कड़ी मेहनत और अच्छा प्रदर्शन करना होगा जिन्होंने क्रिकेट जगत में कुछ मानदंड तय किए हैं.’

गांगुली से पूछा गया कि भारतीय टीम में उनकी तरह की आक्रामकता कौन रखता है तो उन्होंने कहा कि विराट कोहली. उन्होंने कहा, ‘वह अच्छा प्रदर्शन कर रहा है और देश की अगुवाई करने के लिए काफी कुशल है.’

कैब अध्यक्ष ने आगामी ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए टी20 टीम में युवराज सिंह और आशीष नेहरा की वापसी का भी स्वागत किया. उन्होंने कहा, ‘चयन करते समय उम्र से अधिक प्रदर्शन को तरजीह दिया जाना चाहिए और मुझे पूरा विश्वास है कि वो अच्छा प्रदर्शन करके खुद को साबित करने की पूरी कोशिश करेंगे.’

वॉर्न की बेस्ट टीम इंडिया में गांगुली
सौरव गांगुली को अभी कुछ ही दिनों पहले ऑस्ट्रेलिया के महान स्पिनर शेन वार्न ने सर्वश्रेष्ठ भारतीय एकादश में बतौर कप्तान रखा है. वॉर्न अपने फेसबुक पेज पर अलग-अलग देशों की अपनी टेस्ट एकादश का चयन कर रहे हैं.

वॉर्न ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा, ‘मैंने जितनी टीमों का चयन किया उनमें यह सबसे मुश्किल थी क्योंकि मैं कुछ ऐसे दिग्गज खिलाड़ियों जैसे दिलीप वेंगसरकर, संजय मांजरेकर, रवि शास्त्री, मनोज प्रभाकर के खिलाफ भी खेला जो अपने करियर के अवसान पर थे. इसी तरह से जहीर खान जैसा वर्तमान खिलाड़ी है. मैंने जो भारतीय टीम चुनी है वह बहुत मजबूत है ओर उसके खिलाफ खेलना आसान नही है. मुझे जिस बल्लेबाजी स्थान के लिए सबसे अधिक माथापच्ची करनी पड़ी वह नंबर छह स्थान था जिसमें मुझे अपने दोस्त वीवीएस या अजहरुद्दीन में से किसी एक का रखना था.’

महान आलराउंडर कपिल देव और सीमित ओवरों की टीम के वर्तमान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी वॉर्न की टीम में जगह बनाने में सफल रहे. धोनी ने वॉर्न के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं खेली है लेकिन उन्हें आईपीएल में एक दूसरे के खिलाफ मुकाबले के आधार पर टीम में चुना गया.

वॉर्न की टीम इस प्रकार है
वीरेंद्र सहवाग, नवजोत सिंह सिद्धू, राहुल द्रविड़, सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली (कप्तान), मोहम्मद अजहरुद्दीन, कपिल देव, महेंद्र सिंह धोनी, अनिल कुंबले, हरभजन सिंह, जवागल श्रीनाथ, वीवीएस लक्ष्मण (12वां खिलाड़ी).

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें