scorecardresearch
 

सानिया मिर्जा का क्रिकेट कनेक्शन- चार क्रिकेट कप्तानों से है रिश्तेदारी

भारत की टेनिस स्टार सानिया मिर्जा दो साल के मातृत्व अवकाश से लौटने के बाद 2020 में टोक्यो ओलंपिक के लिए पूरी तरह से तैयार थीं. पूर्व वर्ल्ड नंबर-1 डबल्स स्टार के लिए खेलों में देरी उनके लिए झटका है.

सानिया मिर्जा-युवराज सिंह (Twitter) सानिया मिर्जा-युवराज सिंह (Twitter)

  • चार क्रिकेट कप्तानों से जुड़ा है सानिया का परिवार
  • कप्तान गुलाम अहमद से मोहम्मद अजहरुद्दीन तक

भारत की टेनिस दिग्गज सानिया मिर्जा दो साल के मातृत्व अवकाश से लौटने के बाद 2020 में टोक्यो ओलंपिक के लिए पूरी तरह से तैयार थीं. पूर्व वर्ल्ड नंबर-1 डबल्स स्टार के लिए खेलों में देरी उनके लिए झटका है. कोविड-19 महामारी के कारण ओलंपिक को एक साल तक टाल दिया गया है. उन्हें उम्मीद है कि वह ओलंपिक के लिए अगले साल टोक्यो में होंगी, जो 23 जुलाई, 2021 को शुरू होने वाला है.

सानिया ने बुधवार को भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) द्वारा आयोजित वेबिनार कहा, 'मैंने छह साल की उम्र से खेलना शुरू किया और उस समय अगर कोई लड़की रैकेट पकड़कर विंबलडन में खेलने का सपना देखती थी, तो लोग उस पर हंसते थे. लोग क्या कहेंगे यह वाक्य कई सपनों को तोड़ देता है. मैं भाग्यशाली थी कि मुझे ऐसे माता-पिता मिले जिन्होंने इसकी परवाह नहीं की.

sania-with-her-father_050720080639.jpgसानिया अपने पिता इमरान मिर्जा के साथ

33 साल की सानिया मिर्जा के नाम छह (3 डबल्स और 3 मिक्स्ड डबल्स) ग्रैंड स्लैम खिताब हैं. उन्होंने इस साल कोर्ट पर वापसी करते ही यूक्रेनी जोड़ीदार नाडिया किचेनोक के साथ होबार्ट इंटरनेशनल का महिला डबल्स खिताब जीता. हालांकि वह चोट के कारण अपने ऑस्ट्रेलियन ओपन अभियान को आगे बढ़ाने में कामयाब नहीं हो पाईं. ओलंपिक एक साल बाद है, और ऐसे में सानिया एक और वापसी की उम्मीद लगाए बैठी हैं.

सानिया को क्रिकेट किस हद तक पसंद है यह सब जानते हैं. शायद यही वजह है कि उन्होंने क्रिकेटर शोएब मलिक से ही शादी की. एक इंटरव्यू के दौरान वह स्वीकार भी कर चुकी हैं- 'अगर मैं लड़का होती तो क्रिकेट खेल रही होती.' सानिया के पिता इमरान मिर्जा मुंबई में क्लब क्रिकेट खेला करते थे. इतना ही नहीं, सानिया के परिवार में पहले से दो क्रिकेट कप्तान रहे, जिन्होंने क्रमशः भारत और पाकिस्तान की टीम का नेतृत्व किया.

पिछले साल दिसंबर में सानिया की छोटी बहन अनम की मोहम्मद अजहरुद्दीन के बेटे असद (मो. असदुद्दीन) से शादी हुई, जिसके बाद अब उनके परिवार से एक और कप्तान जुड़ गया. सानिया के परिवार में अजहरुद्दीन चौथे क्रिकेट कप्तान हैं, जो उनके रिश्तेदार बने. 2010 में सानिया की शोएब मलिक शादी हुई, जो पाकिस्तान के लिए 3 टेस्ट, 41 वनडे और 20 टी-20 इंटरनेशनल में कप्तानी कर चुके हैं.

सानिया के चचेरे भाई निसार अहमद हैं, जिनके पिता गुलाम अहमद ने 1955-1959 के दौरान तीन टेस्ट मैचों में भारत की कप्तानी की थी. निसार ने कुछ साल पहले बताया था, 'हमारी दादियां बहनें हैं- सानिया के पिता की मां और मेरी नानी.'

cricket-captains_050720080354.jpgचार कप्तान- गुलाम अहमद (भारत), आसिफ इकबाल (पाकिस्तान), शोएब मलिक (पाकिस्तान) और मो. अजहरुद्दीन (भारत).

इसी प्रकार सानिया पाकिस्तान के पूर्व कप्तान आसिफ इकबाल से भी जुड़ी हैं. गुलाम अहमद की बहन के बेटे आसिफ 1961 में हैदराबाद से पाकिस्तान चले गए थे. आसिफ ने छह टेस्ट मैचों में पाकिस्तान की कप्तानी और ये सभी मैच उन्होंने भारत की धरती पर खेले थे. तब पाकिस्तान ने उनकी कप्तानी में छह टेस्ट मैचों की सीरीज 0-2 से गंवाई थी.

चैपल फैमिली की बात करें, तो इस परिवार में तीन क्रिकेट कप्तान हुए. चैपल ब्रदर्स- इयान चैपल (1971-1975) और ग्रेग चैपल (1975-1983) ने ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तानी की थी. साथ ही उनके नाना विक रिचर्डसन भी 1935-1936 के दौरान ऑस्ट्रेलिया के कप्तान रहे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें