scorecardresearch
 

एक भी बोली लगती तो प्रीति जिंटा की टीम के नहीं होते क्रिस गेल

सह मालिक नेस वाडिया ने खुलासा किया कि नीलामी में वे इस विस्फोटक सलामी बल्लेबाज को गंवा सकते थे क्योंकि उनके पास अंत में काफी कम राशि बची थी.

किंग्ल इलेवन पंबाद की को-ऑनर प्रीति जिंटा किंग्ल इलेवन पंबाद की को-ऑनर प्रीति जिंटा

किंग्स इलेवन पंजाब की टीम के लिए क्रिस गेल मौजूदा आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन सह मालिक नेस वाडिया ने खुलासा किया कि नीलामी में वे इस विस्फोटक सलामी बल्लेबाज को गंवा सकते थे, क्योंकि उनके पास अंत में काफी कम राशि बची थी.

38 साल के गेल उम्मीद के विपरीत दो बार बिना बिके ही रहे, लेकिन इसके बाद किंग्स इलेवन पंजाब ने उन्हें तीसरी बार में उनके 2 करोड़ रुपये के आधार मूल्य में खरीदा. वाडिया ने बताया कि फ्रेंचाइजी इस जमैका के खिलाड़ी को खरीदकर कितनी भाग्यशाली रही.

वाडिया ने पीटीआई से कहा, ‘हमारे पास केवल 2.1 करोड़ रुपये बचे थे और अगर हमने नीलामी में पहले ही क्रिस की बोली लगा ली होती और अन्य कोई हमसे बड़ी बोली लगाता, तो हमारे पास उन्हें खरीदने के लिए ज्यादा राशि नहीं थी. हम भाग्यशाली रहे कि किसी अन्य टीम ने उनकी बोली नहीं लगाई. हम तीसरी बार भाग्यशाली रहे.’

किंग्स इलेवन पंजाब ने नीलामी से पहले महज एक खिलाड़ी अक्षर पटेल को रिटेन किया था, उन्होंने टीम बनाने के लिए काफी राशि खर्च कर दी थी और गेल उनके अंतिम खिलाड़ी थे. उन्होंने 2 करोड़ रुपये में गेल को खरीदा, जिससे उनके पास केवल एक लाख रुपये बचे थे. इस तरह उन्होंने पूरे 67.5 करोड़ रुपये खर्च कर दिए थे.

दो महीने बाद गेल ने अपने आलोचकों को गलत साबित करते हुए चार पारियों में दो अर्धशतक (नाबाद 62, 63 ) जमाए और नाबाद 104 रनों की धमाकेदार पारी खेली.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें