scorecardresearch
 

दो हफ्ते में खिलाड़ियों के 4 कोविड टेस्ट, 6 फीट दूर बैठेंगे कमेंटेटर, IPL को लेकर ऐसी तैयारी

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) आईपीएल-2020 की अपनी योजनाओं को अंतिम रूप देने को लिए तैयार है. रविवार को गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग में बोर्ड टेलीकांफ्रेंस के माध्यम से फ्रेंचाइजी मालिकों, प्रायोजकों और प्रसारकों के साथ चर्चा करेगा.

IPL 13: Here’s What BCCI Has Planned For The Event in UAE IPL 13: Here’s What BCCI Has Planned For The Event in UAE

  • IPL के लिए बीसीसीआई ने तैयार किए मानदंड
  • जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में होगा टूर्नामेंट

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) आईपीएल-2020 की अपनी योजनाओं को अंतिम रूप देने को लिए तैयार है. रविवार को गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग में बोर्ड टेलीकांफ्रेंस के माध्यम से फ्रेंचाइजी मालिकों, प्रायोजकों और प्रसारकों के साथ चर्चा करेगा. इस साल सितंबर से नवंबर तक (19 सितंबर से-8 नवंबर) यूएई में प्रस्तावित आईपीएल टूर्नामेंट के लिए बीसीसीआई सभी फ्रेंचाइजी मालिकों को मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) भेजेगा, जिसमें कुछ प्रमुख मानदंड इस प्रकार हो सकते हैं.

कम से कम शुरुआत में स्टेडियम के अंदर कोई दर्शक या फैन नहीं होगा. कमेंटेटर्स की बात करें, तो स्टूडियो में वे एक-दूसरे से छह फीट दूर बैठेंगे. डगआउट में ज्यादा चहलकदमी भी नहीं दिखेगी, ड्रेसिंग रूम में 15 से अधिक खिलाड़ी नहीं होंगे. मैच के बाद अवॉर्ड प्रेजेंटेशन में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएगा. साथ ही सभी खिलाड़ियों को दो हफ्ते में चार कोविड टेस्ट कराने होंगे.

इधर, आईपीएल-13 को यूएई में स्थानांतरित करने के लिए सरकार की मंजूरी का इंतजार है, हालांकि अमीरात क्रिकेट बोर्ड ने बीसीसीआई से अनुरोध प्राप्त करने के बाद इस टूर्नामेंट की मेजबानी के लिए पहले ही अपना इरादा जाहिर कर दिया है.

बीसीसीआई अधिकारी ने 'द इंडियन एक्सप्रेस' से कहा कि सिर्फ खिलाड़ी ही नहीं, उनकी पत्नियां-गर्लफ्रेंड्स (WAGs) तथा फ्रेंचाइजी मालिकों को भी उन मानदंडों का पालन करना होगा, जो जारी किए जाएंगे. जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में यह टूर्नामेंट होगा. अधिकारी ने कहा कि इससे जुड़े मापदंडों का सख्ती से पालन किया जाएगा.

इस दिन IPL गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग, शेड्यूल पर होगी चर्चा

अधिकारी ने कहा, 'बीसीसीआई यह तय नहीं करेगा कि WAGs और परिवार के सदस्य खिलाड़ियों के साथ यात्रा कर सकते हैं या नहीं, हमने इसे फ्रेंचाइजी पर छोड़ दिया है. लेकिन बोर्ड ने एक प्रोटोकॉल रखा है, जिसमें हर कोई, यहां तक कि टीम के बस ड्राइवर भी इसमें शामिल हैं.

एसओपी में यह भी होगा कि प्रत्येक खिलाड़ियों को टूर्नामेंट शुरू होने से पहले दो हफ्ते के अंतराल में चार कोविड टेस्ट से गुजरना होगा. दो कोविड टेस्ट भारत में कराए जाएंगे (प्रस्थान से पहले), जबकि दो और परीक्षण संयुक्त अरब अमीरात में क्वारनटीन के दौरान होंगे.

बताया जाता है कि ये एसओपी वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) द्वारा तैयार किए गए मानदंडों की तर्ज पर आधारित हैं.

ज्यादातर फ्रेंचाइजियों के पास 20 या इससे अधिक खिलाड़ियों के स्क्वॉड होंगे, उनके साथ सपोर्ट स्टाफ भी होंगे. एसओपी के कुछ प्रमुख दिशा-निर्देश यूएई में उनके ठहरने को लेकर भी होंगे. एक बार जगह मिलने के बाद टीमों को होटल बदलने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

बीसीसीआई ने पहले ही फ्रेंचाइजियों को लॉजिस्टिक और होटल की व्यवस्था के लिए काम करने को कहा है, हालांकि बोर्ड बुकिंग के दौरान छूट पाने में उनकी मदद करेगा.

यह भी पता चला है कि कोविड टेस्ट में नेगेटिव पाए जाने वाले कैटरर्स को ही होटल, ड्रेसिंग रूम और अन्य क्षेत्रों के अंदर जाने की अनुमति दी जाएगी. बीसीसीआई प्रसारकों और मैच अधिकारियों को भी एसओपी सौंपेगा.

अधिकारी ने कहा, 'हम किसी भी तरह का जोखिम नहीं लेना चाहते हैं, खेल बंद दरवाजों के पीछे होंगे.' गल्फ न्यूज के अनुसार, संयुक्त अरब अमीरात ने बुधवार को कोविड-19 के 375 नए मामले आए हैं. अब तक कुल 59,921 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, जिनमें से 53,202 रिकवर हुए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें