scorecardresearch
 

पूर्व भारतीय कप्तान बोले- टेस्ट सीरीज में न्यूजीलैंड के खिलाफ भारी रहेगा टीम इंडिया का पलड़ा

भारतीय टीम न्यूज़ीलैंड के खिलाफ होने वाली तीन टेस्ट की सीरीज जीतने के लिए फेवरेट रहेगी, ये कहना है एक, दो नहीं बल्कि पांच दिग्गजों का. आजतक से खास बातचीत में कपिल देव, सौरव गांगुली, मोहम्मद अजहरुद्दीन, वीवीएस लक्ष्मण और ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने सीरीज शुरू होने से पहले ही कह दिया है कि किवी टीम के लिए मेजबान भारत को घर पर पछाड़ना लगभग नामुमकिन होगा.

वीवीएस लक्ष्मण, कपिल देव और ब्रेट ली वीवीएस लक्ष्मण, कपिल देव और ब्रेट ली

भारतीय टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाली तीन टेस्ट की सीरीज जीतने के लिए फेवरेट रहेगी, ये कहना है एक, दो नहीं बल्कि पांच दिग्गजों का. आजतक से खास बातचीत में कपिल देव, सौरव गांगुली, मोहम्मद अजहरुद्दीन, वीवीएस लक्ष्मण और ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने सीरीज शुरू होने से पहले ही कह दिया है कि कीवी टीम के लिए मेजबान भारत को घर पर पछाड़ना लगभग नामुमकिन होगा.

ब्रेट ली का कहना है कि 'विराट कोहली की टीम न्यूजीलैंड को हरा देगी, भारतीय खिलाड़ी इन पिचों पर अच्छा प्रदर्शन करने में माहिर हैं, विराट एक बेहतरीन कप्तान हैं और उनके पास जबरदस्त बल्लेबाज हैं. मुझे लगता है की सिर्फ और सिर्फ केन विलियम्सन भारत को थोड़ा झटका दे सकते हैं.'

गुरुवार को कानपुर में पहला टेस्ट मैच शुरू हो रहा है और कपिल देव का मानना है कि सभी की नजरें ग्रीन पार्क की पिच पर रहेंगी. कपिल ने कहा कि 'भारतीय टीम के पास वो असला है जिससे वो आसानी से मैच जीत सकते हैं. लेकिन, न्यूज़ीलैंड को इतना हल्के में भी नहीं आंकना चाहिए. उनके कई खिलाड़ी भारत में काफी खेले हुए हैं. इस साल वर्ल्ड टी20 में भी उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया था. आप नहीं कह सकते कि वो टर्निंग विकेट पर आसानी से घुटने टेक देंगे. पिच पांच दिन तक सही खेली तो अच्छा लगेगा क्योंकि अगर तीन दिन में ही मैच खत्म हो जाता है तो फिर टॉस जीतने वाली टीम का पलड़ा भारी हो जाता है.'

पोटेंशल के हिसाब से खेली तो जीतेगी टीम इंडिया
वहीं वीवीएस लक्ष्मण ने भी कहा कि अगर टीम इंडिया अपने पूरा दम लगाए तो जीत दूर नहीं. उन्होंने कहा कि 'मुझे लगता है कानपुर में अच्छा विकेट मिलना चाहिए. अगर भारतीय टीम अपने पोटेंशल के हिसाब से खेलेगी तो ज़रूर जीतेगी. हालांकि मैं वर्ल्ड टी20 में उनके स्पिनर्स मिचेल सैंटनर और ईश सोढ़ी के प्रदर्शन से काफी प्रभावित हुआ था.' उन्होंने माना कि गेंद ज़्यादा घूमी तो बल्लेबाजों के लिए भी मुश्किलें बढ़ेंगी.

न्यूजीलैंड के लिए बड़ी चुनौती
लक्ष्मण ने ये भी कहा है कि 'मुझे लगता है कि बल्लेबाजों को ज़्यादा संघर्ष करना पड़ेगा. ये सही है कि विदेशी बल्लेबाजों के पास टर्निंग ट्रैक पर खेलने का अनुभव नहीं है और आर आश्विन, अमित मिश्रा और रविन्द्र जडेजा उन पर काफी दबाव भी डालेंगे. गेंद जब ज़्यादा घूमती है तो उसको कंट्रोल करना भी ज़रूरी है, न्यूज़ीलैंड के गेंदबाजों के लिए एक बड़ी चुनौती ये भी होगी की वो इस पर कैसे काबू पाएं, ये उनके लिए नया होगा,'

पिच के हिसाब से चुने खिलाड़ी
वहीं कपिल का कहना है कि भारत को पिच के हिसाब से ही अपनी प्लेइंग इलेवन चुननी चाहिए. उन्होंने कहा, 'अगर पिच अनुकूल है तो पांच गेंदबाज़ के साथ मैदान में उतरा जा सकता है. मैं तो आश्विन को ऑलराउंडर मानता हूं और साहा अगर आठवें नंबर पर बल्लेबाज़ी कर सकते हैं तो पांच गेंदबाज़ खेल सकते हैं. पिच का अनुमान लगाकर ही ग्यारह चुनने में समझदारी होगी. मुझे ये भी लगता है कि न्यूज़ीलैंड के कप्तान केन विल्यम्सन की विकेट भारत के लिए बड़ा महत्व रखेगी. अगर वो रन नहीं बना पाए तो न्यूज़ीलैंड की टीम अपने आप प्रेशर में आ जाएगी.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें