scorecardresearch
 

Ind Vs Nz: ‘द्रविड़ कभी ऐसा नहीं करेंगे…’, गौतम गंभीर का पूर्व कोच रवि शास्त्री पर बड़ा बयान

पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने राहुल द्रविड़ के कोचिंग कार्यकाल में मिली जीत के बारे में बात की. साथ ही उन्होंने पूर्व कोच रवि शास्त्री को लेकर भी कमेंट किया.

X
Gautam Gambhir (File) Gautam Gambhir (File)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पूर्व कोच रवि शास्त्री पर गौतम गंभीर का बयान
  • राहुल द्रविड़ हमेशा संयमित तौर पर बयान देंगे: गंभीर

Ind Vs Nz: भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड को घरेलू टी-20 सीरीज में 3-0 से मात दी. नए कोच राहुल द्रविड़ और टी-20 फॉर्मेट के नए कप्तान रोहित शर्मा की अगुवाई में टीम इंडिया की ये पहली जीत है. लेकिन इस बीच पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर का बड़ा बयान आया है, जिसमें उन्होंने मौजूदा कोच राहुल द्रविड़ की तारीफ करते हुए पूर्व कोच रवि शास्त्री पर निशाना साधा. 

एक इंटरव्यू में पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने कहा, ‘मैं रवि शास्त्री के कार्यकाल में नहीं खेला, लेकिन मुझे ये सरप्राइज़िंग लगा कि जब आप अच्छा करते हो तो खुद अपनी तारीफ नहीं करते हो. लोग बोलें तो बढ़िया रहता है, जब हमने वर्ल्ड कप जीता था तब किसी को कहना नहीं पड़ा कि हम दुनिया या देश की सबसे बेस्ट टीम हैं’.

गौतम गंभीर ने रवि शास्त्री के कार्यकाल को लेकर कहा, ‘आप ऑस्ट्रेलिया में जीते, इंग्लैंड में जीते शानदार है... आप ऐसा कभी भी राहुल द्रविड़ से नहीं सुनेंगे. वो अच्छा करें या खराब, वह बैलेंस ही रहेंगे और ऐसा ही बाकी खिलाड़ियों में देखने को मिलेगा.’

'एक अच्छा इंसान बनाएंगे द्रविड़'

पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर बोले कि राहुल द्रविड़ का सबसे बड़ा मकसद यही होगा कि क्रिकेट के साथ खिलाड़ी एक अच्छा इंसान भी बने. रोहित शर्मा को लेकर गौतम गंभीर बोले कि उन्हें लगातार समर्थन मिला है, एमएस धोनी हो या फिर पहले के कप्तान..रोहित शर्मा को हमेशा समर्थन मिला है. उन्हें भी युवाओं के साथ ऐसा करना होगा. 

आपको बता दें कि राहुल द्रविड़ की अगुवाई में भारतीय टीम की ये पहली सीरीज थी. राहुल द्रविड़ ने टी-20 वर्ल्डकप के बाद ही भारतीय टीम की कोचिंग की जिम्मेदारी संभाली है, जबकि रोहित शर्मा पहली बार टी-20 फॉर्मेट के फुल टाइम कप्तान बने हैं. 

गौरतलब है कि रवि शास्त्री ने जब टीम इंडिया की कोचिंग छोड़ी, तब उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बात का जिक्र किया था कि हमारी टीम दुनिया की सबसे बेस्ट टीम थी, जो क्रिकेट इतिहास में शामिल रही. हमने पांच साल हर जगह जीत हासिल की, हर टीम को घरों में जाकर हराया. हालांकि, रवि शास्त्री ने ये भी माना कि वह कोई आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीत पाए. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें